ताज़ा खबर
 

यूपी: मुहर्रम के झंडे को हटा लगाया भगवा, दो समुदायों में भीषण संघर्ष के बाद 10 गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश में मुहर्रम के झंडे की जगह भगवा झंडा लगाने के प्रयास के बाद दो पक्षों के बीच भीषण संघर्ष हुआ। घटना के बाद 10 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

Author October 9, 2018 12:09 PM
उत्तर प्रदेश में तनाव के बाद 14 लोग गिरफ्तार (प्रतीकात्मक तस्वीर- एक्सप्रेस फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश की महाराजगंज पुलिस ने दो समुदायों के बीच भीषण संघर्ष के बाद सोमवार (8 अक्टूबर) को 10 लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोप है कि जिले के बारगडवा गांव में एक दिन पहले रविवार को मुहर्रम के झंडे को हटा भगवा झंडा लगा दिया गया। इस घटना के बाद दोनों पक्षों के बीच संघर्ष शुरू हो गया। इसमें सात लोगों के घायल होने की भी बात कही जा रही है। स्थानीय निवासी राम नयन द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत के बाद प्राथमिकी दर्ज की गई और आरोपियों की गिरफ्तारी हुई। आईपीसी की धारा 147, 323, 504, 336 और 436 के तहत 14 ज्ञात और 25 अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। जिन ज्ञात लोगों के खिलाफ पनीवारा थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है, सभी मुस्लिम समुदाय के हैं। वहीं, पनीवारा पुलिस थाने के एसएचओ मनीष कुमार सिंह ने बताया कि, “दूसरे समूह (मुस्लिम) ने अभी तक किसी तरह की शिकायत दर्ज नहीं करवाई है।”

एसएचओ के अनुसार, रविवार की दोपहर एक समूह ने गांव में बिजली के खंभे पर लगे हरे झंडे को हटाने की कोशिश की। इस समूह में हिंदू समुदाय के लोग शामिल थे। वे यहां हरे झंडे की जगह भगवा झंडा लगाना चाहते थे। जैसे ही इस बात की जानकारी दूसरे पक्ष को मिली, वे आक्रोशित हो गए। कुछ ही देर में दोनों ने एक दूसरे पर हमला कर दिया। पत्थरबाजी शुरू हो गई। दोनों पक्षों के बीच भीषण संघर्ष हुआ। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और बल प्रयोग कर भीड़ को खदेड़ा गया। गांव में तनाव का माहौल बरकरार है। घटना के बाद कुछ मुस्लिम युवक गांव छोड़कर चले गए हैं।

दो समुदायों के बीच तनाव की घटना के बाद दर्ज कराए गए शिकायत के आधार पर पुलिस ने गांव में छापेमारी की। महाराजगंज सर्किल ऑफिसर देवेंद्र कुमार ने बताया कि, “10 लोगों को गिरफ्तार किया गया और उन्हें स्थानीय कोर्ट में पेश करने के बाद न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। सभी गिरफ्तार लोग बरगडवा गांव के रहने वाले हैं।” भीषण संघर्ष की इस घटना के बाद गांव में तनाव का महौल व्याप्त है। स्थिति की गंभीरता को देखते हुए 65 प्रतिशत हिंदू जनसंख्या वाले इस गांव में भारी संख्या में पुलिस बलों की तैनाती की गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App