ताज़ा खबर
 

कोलकाता में फिर हिंसक झड़प, तृणमूल छात्र परिषद और एबीवीपी में भिड़ंत

बताया जा रहा है कि शुक्रवार को हावड़ा के रामसदय कॉलेज में दोनों गुटों के छात्रों के बीच झड़प के बाद पुलिस ने कॉलेज बंद करा दिया। इस झड़प में छात्रों ने जमकर बवाल किया और काफी हिंसा की।

Author नई दिल्ली | Published on: June 29, 2019 5:50 PM
एबीवीपी ने आरोप लगाया है कि टीएमसी के लोगों पर माहौल खराब करने का आरोप लगाया है।(फोटो- ANI)

पश्चिम बंगाल में चुनाव खत्म होने के बाद भी राजनीतिक हिंसा रुकने का नाम नहीं ले रही है। तृणमूल कांग्रेस स्टूडेंट यूनियन और एबीवीपी के छात्रों के बीच झड़प की खबर है। बताया जा रहा है कि शुक्रवार को हावड़ा के रामसदय कॉलेज में दोनों गुटों के छात्रों के बीच झड़प के बाद पुलिस ने कॉलेज बंद करा दिया। इस झड़प में छात्रों ने जमकर बवाल किया और काफी हिंसा की। इस दौरान छात्रों ने यूनियन रूम में तोड़फोड़ की। इस घटना में  10 छात्र घायल हो गए। एहतियात के तौर पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किए गए हैं।

तृणमूल कांग्रेस के स्टूडेंट यूनियन और एबीवीपी दोनों का आरोप प्रत्यारोप का खेल शुरू हो गया है, दोनों ने एक दूसरे पर माहौल खराब करने  का आरोप लगाया है। गर्मी की छुट्टी के चलते बंद चल रहे कॉलेज को कुछ आधिकारिक काम के लिए खोला गया था। हिंसा के बाद पुलिस ने कॉलेज को दो बजे ही बंद करा दिया। एबीवीपी का आरोप है कि उनके कार्यकर्ताओं पर टीएमसीपी के लोगों ने हमला कर दिया। एबीवीपी का कहना है कि उनके कार्यकर्ता कॉलेज प्रशासन को मेमोरेंडम सौंपने जा रहे थे।

वहीं, तृणमूल ने आरोप लगाया है कि एबीवीपी के कुछ बाहरी कार्यकर्ताओं ने यूनियन ऑफिस में घुस कर तोड़फोड़ की और उसके बाद कर्मचारियों से मारपीट की। घटना के वक्त कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ देबशंकर मुखोपाध्याय  मौजूद नहीं थे। उन्होंने कहा है कि कॉलेज प्रशासन पुलिस की मदद करेगा और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 कमाओ-खाओः भिखारी मुक्त लखनऊ के लिए नगर निगम का प्लान, नहीं माने तो होगा एक्शन
2 J&K: गहरी खाई में गिरी ASI की कार, मौके पर मौत; गाड़ी के उड़े परखच्चे
3 Varanasi: लोकसभा चुनाव में PM मोदी के प्रस्तावक रहे शख्स से कहा- ‘भाग जाओ’, चौकी प्रभारी सस्पेंड