ताज़ा खबर
 

ओडिशा: इंजीनियरिंग और लॉ के छात्रों में हिंसक भिड़ंत, बेल्‍ट और बल्‍ले से की पिटाई, देखें वीडियो

मामले में पुलिस अभी जांच-पड़ताल में जुटी है। शुरुआती जांच के आधार पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 5 छात्रों को गिरफ्तार भी किया है।

Author November 26, 2018 4:05 PM
छात्रों के बीच जबरदस्त मारपीट हुई है। फोटो सोर्स – (वीडियो स्क्रीनशॉट)

भुवनेश्वर के कलिंगा इंस्टीट्यूट ऑफ इंडस्ट्रियल टेक्नोलॉजी यूनिवर्सिटी के इंजीनियरिंग और लॉ के छात्रों के बीच जमकर मारपीट हुई। यह घटना बीत शनिवार की है। इस मारपीट में कई छात्र घायल हुए हैं। इस पूरी मारपीट का एक वीडियो भी सामने आया है। वीडियो में नजर आ रहा है कि छात्र यहां जबरदस्त हिंसा पर उतारू हैं। छात्र एक दूसरे की बल्ले और बेल्ट से पिटाई कर रहे हैं। वीडियो में सैकड़ों छात्रों का हुजुम नजर आ रहा है जो एक दूसरे के साथ जबरदस्त हिंसा कर रहे हैं।

जानकारी के मुताबिक आरोप है कि विश्वविद्यालय कैंपस में इंजीनियरिंग के एक छात्र राकेश राठौर ने लॉ की छात्रा से छेड़खानी कर दी। इस घटना से लॉ के छात्र आक्रोशित हो गए और उन्होंने आरोपी छात्र को घेर लिया। इसके बाद वहां इंजीनियरिंग के कुछ छात्र भी आ गए। हालांकि उस वक्त तो आरोपी छात्र ने लड़की से माफी मांग ली जिसके बाद सभी लोग वहां से चले गए। लेकिन थोड़ी देर बाद कई इंजीनियरिंग के कई छात्र बल्ले और पत्थर लेकर लॉ के छात्रों पर टूट पड़े। हॉस्टल में जमकर तोड़फोड़ की गई। इसक बाद लॉ के छात्र भी हाथों में बेल्ट और डंडे लेकर इस घमासान में कूद पड़े।

कलिंग इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी यूनिवर्सिटी का कैंपस काफी देर तक रणभूमि में तब्दील रहा । इस हिंसक मारपीट में कई छात्रों को चोटे आई हैं। गंभीर चोट की वजह से कुछ छात्रों को आईसीयू में भर्ती कराया गया है। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मारपीट में घायल कुछ छात्रों की हालत भी गंभीर है। इधऱ लॉ के छात्रों ने विश्वविद्याल प्रशासन से मांग की है कि वो इंजीनियरिंग के हॉस्टल को खाली कराएं।

मामले में पुलिस अभी जांच-पड़ताल में जुटी है। शुरुआती जांच के आधार पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 5 छात्रों को गिरफ्तार भी किया है। कैंपस में माहौल को सामान्य बनाए रखने के लिए स्टेट आरपीएफ की तैनाती की गई है और धारा 144 भी लगा दिया गया है।

देखें वीडियो:

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App