चुनाव जीतने के लिए चिराग पासवान ने ली नक्सलियों की मदद- निलंबित लोजपा महासचिव ने कहा- मुझे भी दी बर्बाद करने की धमकी

इन आरोपों पर लोजपा नेता और पार्टी के मीडिया प्रभारी कृष्णा सिंह कल्लू ने कहा कि केशव सिंह राजनीति कर रहे हैं।

bihar elections result 2020
एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान। (ani)

लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के निलंबित महासचिव केशव सिंह ने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने दावा किया कि चिराग के संबंध नक्सलियों से हैं। उन्होंने कहा कि लोजपा अध्यक्ष ने 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान जमुई लोकसभा सीट जीतने के लिए नक्सलियों का मदद ली थी। हालांकि उनके आरोपों को पार्टी ने सिरे से खारिज कर दिया।

लोजपा नेता और पार्टी के मीडिया प्रभारी कृष्णा सिंह कल्लू ने कहा कि केशव सिंह राजनीति कर रहे हैं। वो लंबे समय से पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल थे इसलिए उन्हें पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया गया। अब वो पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पर झूठे आरोप लगा रहे हैं। वो सिर्फ मीडिया में बने रहना चाहते हैं। पार्टी उनके खिलाफ मानहानि का मुकदमा करेगी।

केशव सिंह का एक आरोप ये भी है कि इस खुलासे के बाद अमर आजाद नाम के शख्स ने उन्हें मारने की धमकी दी है। उन्होंने कहा कि धमकी चार दिसंबर को तब मिली जब वो किशनगंज के एक होटल में ठहरे हुए थे। तब अमर आजाद का फोन आया और उसने मुझे चिराग पासवान से माफी मांगने के लिए कहा। बकौल केशव अमर आजाद का संबंध भी नक्सलियों से है। मैंने अपनी सुरक्षा के लिए डीजीपी और एसएसपी से गुहार लगाई है।

बता दें कि सिंह को तब पार्टी से निकाल दिया गया जब उन्होंने दावा किया कि जनवरी में लोजपा में बड़ी फूट पड़ेगी। उन्होंने कहा था कि लोजपा में आंतरिक लोकतंत्र नहीं बचा है। सांसदों और विधायकों की आवाज भी पार्टी में नहीं सुनी जा रही है। हर निर्णय सिर्फ एक तरफा होता है।

पार्टी विरोधी गतिविधियों के लिए छह साल के लिए बाहर किए जाने पर सिंह ने कहा कि चिराग पासवान ऐसे ही समर्पित कार्यकर्ताओं को बाहर का रास्ता दिखा स्वर्गीय रामविलास पासवान के सपनों को चकनाचूर करें और आरजेडी को मजबूत करने का काम करते रहें। उन्होंने दावा किया कि जल्द ही चार सांसद और बड़ी संख्या में अन्य नेता लोजपा (रामविलास गुट) की स्थापना करने जा रहे हैं।

पढें Lok Sabha Election Constituencies List 2019 समाचार (Loksabhaelectionconstituencieslist News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।