scorecardresearch

मध्य प्रदेश के कांग्रेस विधायक बोले- सीएम शिवराज कर दें यह काम तो पैर धोकर पी लूंगा

Madhya Pradesh: पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पुरानी पेंशन बहाली को लेकर पहले ही वादा कर चुके हैं।

मध्य प्रदेश के कांग्रेस विधायक बोले- सीएम शिवराज कर दें यह काम तो पैर धोकर पी लूंगा
MP: कांग्रेस विधायक अर्जुन सिंह काकड़िया। (फोटो सोर्स: सोशल मीडिया)

Madhya Pradesh: मध्य प्रदेश की राजनीति से नेताओं के आए दिन अजीबो-गरीब बयान सामने आते रहते हैं। अब मध्य प्रदेश कांगेस के विधायक ने कहा कि अगर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पुरानी पेंशन को बहाल कर दें तो मैं उनकी पैर धोकर पी लूंगा।

बता दें, अर्जुन सिंह काकड़िया शिवली से कांग्रेस के विधायक हैं। शिवली कांग्रेस का गढ़ माना जाता है। यहां पर आजाद अध्यापक संघ पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर धरना-प्रदर्शन कर रहा है। उसी मौके पर कांग्रेस विधायक अर्जुन सिंह ने कहा कि कांग्रेस की सरकार जब आएगी तो पुरानी पेंशन को बहाल किया जाएगा। जिसको लेकर कमलनाथ इसकी पहले ही घोषणा कर चुके हैं।

अर्जुन सिंह ने कहा, ‘अगर इसी सरकार में यह काम हो जाए तो मैं सीएम शिवराज के पैर धोकर पी लूंगा। जब मीडिया ने उनसे पूछा कि आपने इस तरह का बयान दिया है तो उन्होंने कहा कि सीएम शिवराज सिंह चौहान बहुत सज्जन व्यक्ति हैं, वो रामराज्य की बात करते है, जो भारत की संस्कृति है। उन्होंने कहा कि चरण धोना यह बहुत सम्मान की बात होती है। उन्होंने कहा कि अगर वो ईमानदारी के साथ धर्म की बात करते हैं, भारतीय संस्कृति की बात करते हैं तो वो निश्चित रूप से वो यह काम करेंगे, अगर नहीं करेंगे तो उसके बारे में मैं कुछ कह नहीं सकता।

पुरानी पेंशन बहाली को लेकर कमलनाथ कर चुके हैं वादा

मध्यप्रदेश में 2 अक्टूबर को प्रदेशभर में होने वाले लाखों कर्मचारियों के आंदोलन से पहले पूर्व सीएम कमलनाथ ने वादा किया है कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनते ही पुरानी पेंशन स्कीम लागू करेंगे। राजस्थान और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकारें यह स्कीम लागू कर चुकी है।

बता दें, प्रदेश में पिछले छह महीने से पुरानी पेंशन स्कीम की बहाली को लेकर कर्मचारी आंदोलन कर रहे हैं। गांधी जयंती के दिन 2 अक्टूबर को फिर से बड़ा आंदोलन होने वाला है। मध्यप्रदेश अधिकारी-कर्मचारी संयुक्त मोर्चा सभी जिलों में कर्मचारी एक ही समय पर महात्मा गांधी की प्रतिमा के नीचे दोपहर 12 से 2 बजे के बीच उपवास पर बैठेंगे। अगले साल मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में कांग्रेस फिर से इस मुद्दे पर मैदान में उतर गई है। पूर्व मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने पेंशन को लेकर कर्मचारियों से वादा भी किया है।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.