ताज़ा खबर
 

योगी ने मंत्रियों समेत कुंभ में लगाई डुबकी, देखें वीडियो

योगी सरकार ने आज (मंगलवार) को कुंभ में कैबिनेट की बैठक की। इस बैठक से पहले योगी आदित्यनाथ ने बैठक से पहले योगी सहित कैबिनेट मंत्रियों ने अक्षयवट और बड़े हनुमान मंदिर के दर्शन किए।

Author Published on: January 29, 2019 4:20 PM
मंत्रियों संग कुंभ में स्नान करते योगी आदित्यनाथ ,फोटो सोर्स- ट्विटर (@PrayagrajKumbh)

योगी सरकार ने आज (मंगलवार) को कुंभ में कैबिनेट की बैठक की। इस बैठक से पहले योगी आदित्यनाथ ने बैठक से पहले योगी सहित कैबिनेट मंत्रियों ने अक्षयवट और बड़े हनुमान मंदिर के दर्शन किए। बैठक में उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या, डॉ दिनेश शर्मा, सुरेश खन्ना, सूर्य प्रताप शाही, सिद्धार्थ नाथ सिंह, सतीश महाना, डॉ रीता जोशी समेत मंत्रिमंडल के अन्य वरिष्ट सदस्य मौजूद रहे। बता दें कि सीएम योगी ने बैठक और दर्शन के अलावा उत्तर प्रदेश के मंत्री मंडल एवं संत-महात्माओं के साथ पावन संगम में स्नान किया।

कुंभ में स्नान: बता दें कि योगी सरकार की कैबिनेट बैठक वैसे तो प्रदेश की राजधानी लखनऊ में होनी थी लेकिन इस बार इसका आयोजन प्रयागराज कुंभ में किया गया। जानकारी के मुताबिक 132 साल बाद ऐसा हुआ है।इससे पहले 1887 में यहां कैबिनेट की बैठक हुई थी। इस बैठक के शुरू होने से पहले योगी सहित कैबिनेट मंत्रियों ने अक्षयवट और बड़े हनुमान मंदिर के दर्शन किए। इसके बाद कैबिनेट की बैठक हुई। इसके बाद ही योगी ने संत महात्माओं और मंत्रियों सहित संगम में स्नान किया।

कुंभ में योगी आदित्यनाथ ,फोटो सोर्स- ट्विटर (@PrayagrajKumbh)

बैठक के बाद क्या बोले योगी: बैठक के बाद सीएम योगी ने 600 किमी लंबे गंगा एक्सप्रेस वे का ऐलान किया तो वहीं सर्जिकल स्ट्राइक पर बनी फिल्म उरी को भी प्रदेश में टैक्स फ्री घोषित कर दिया। वहीं उन्होंने कहा कि नमामि गंगे के कारण दुनिया के सामने कुंभ मेला एक उदाहरण बन गया है। इसके साथ ही योगी ने कुंभ की सफलता का सारा श्रेय पीएम नरेन्द्र मोदी को दिया।

 

जानें 600 लंब किमी एक्सप्रेस-वे के बारे में: बैठक के बाद सीएम योगी ने 600 किमी लंबे गंगा एक्सप्रेस वे का ऐलान किया उसके बारे में बता दें कि प्रयागराज को पश्चिमी उत्तर प्रदेश से जोड़ने वाला यह एक्सप्रेस-वे मेरठ, अमरोहा, बुलंदशहर, बदायूं, शाहजहांपुर, कन्नौज, उन्नाव, रायबरेली और प्रतापगढ़ से गुजरेगा। इस एक्सप्रेस-वे को बनाने में 6,556 हेक्टेयर जमीन की जरूरत पड़ेगी। इसे बनाने में करीब 36 हजार करोड़ की लागत आएगी। ये एक्सप्रेस-वे पूरी तरह से गंगा के किनारे बनाया जाएगा। बताया जा रहा है कि ये एक्सप्रेस-वे दुनिया का सबसे लंबा एक्सप्रेस-वे होगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 UP: बुकिंग क्लर्क ने यात्रियों के साथ की अभद्रता, लोगों ने बनाया वीडियो, हुआ सस्पेंड
2 लिव इन रिलेशन में रह रहीं लड़कियों को इलाहाबाद HC से राहत, परिजनों से जान के खतरे का लगाया था आरोप
3 केरल: सीपीएम कार्यालय की तलाशी ली तो महिला आईपीएस अधिकारी के खिलाफ सीएम ने बैठा दी जांच