ताज़ा खबर
 

पद्मावत: पुलिस से लाठियां खाते ही रास्‍ते पर आए करणी सेना के राजपूत, लिख कर दिया- नहीं करेंगे विरोध

Padmavati Movie Release: छत्तीसगढ़ पुलिस ने पहले तो इन्हें समझाया, लेकिन जब ये ना माने तो इन पर लाठियां बरसाईं गईं, लाठियां खाकर इन नेताओं की अक्ल तुरंत ठिकाने आ गई।

padmavati, padmavati movie, padmavat, पद्मावती, पद्मावत, padmavat movie, padmavati protest, padmavati release, padmavati movie release, padmavati news in hindi, padmavati movie review, padmavati review, padmavat release, padmavati release date, padmavat movie news in hindi, padmavati protest, padmavati controversy, padmavati latest news, chattisgarh, chattisgarh police, chattisgarh rajput, Hindi news, Jansattaदिल्ली से सटे नोएडा में डीएनडी टोल पर तोड़फोड़ कर रहे करणी सेना के एक सदस्य को पुलिस हिरासत में लेती हुई (फोटो-पीटीआई 21-01-18)

जो काम हरियाणा, राजस्थान और समेत कई राज्यों की पुलिस करने में हिचकिचाती रही उसे कर दिखाया छोटे से राज्य छत्तीसगढ़ की पुलिस ने। फिल्म पद्मावत को बैन करने की मांग लेकर रायपुर में प्रदर्शन कर रहे करणी सेना के लोगों को पुलिस ने इतनी लाठियां मारी की वे लोग रास्ते पर आ गये। करणी सेना के इन राजपूत नेताओं ने लिखकर दिया है कि अब वह इस फिल्म के खिलाफ प्रदर्शन नहीं करेंगे। पूरे देश समेत छत्तीसगढ़ में भी पद्मावत 25 जनवरी को रिलीज होनी थी। लेकिन करणी सेना के नेता बुधवार 24 जनवरी फिल्म के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे और सिनेमाघरों से इसे ना रिलीज करने की मांग कर रहे थे। छत्तीसगढ़ पुलिस ने पहले तो इन्हें समझाया, लेकिन जब ये ना माने तो इन पर लाठियां बरसाईं गईं, लाठियां खाकर इन नेताओं की अक्ल तुरंत ठिकाने आ गई।  पुलिस द्वारा लाठी चार्ज के बाद कई लोग चोटिल हो गये तो कईयों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया।

फोटो सोर्स- व्हाट्सअप

पुलिस हिरासत में जाते ही करणी सेना के राजपूत नेताओं ने पुलिस को लिखित दिया कि अब वह इस फिल्म के खिलाफ धरना प्रदर्शन नहीं करेंगे, लिहाज उन्हें छोड़ दिया जाए। इन लोगों ने लिखकर दिया है कि अगर उन्होंने प्रदर्शन किया तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जा सकती है। इसके बाद पुलिस ने मामले को निपटाते हुए इन्हें जेल से छोड़ दिया। रायपुर के एएसपी विजय अग्रवाल ने कहा है कि राजधानी में माहौल शांतिपूर्ण  है और कहीं किसी तरह की अप्रिय घटना नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन किया जाएगा और कानून को हाथ में लेने की इजाजत किसी को नहीं दी जाएगी। वहीं कुछ राजपूत नेताओं का कहना है कि उनका प्रदर्शन जारी रहेगा, लेकिन अब वह शांति पूर्ण तरीके से फिल्म का विरोध करेंगे। रायपुर में आज सिनेमाघरों में पद्मावत को देखने के लिए बड़ी भीड़ उमड़ी। हरियाणा और पंजाब के मल्टीप्लेक्स और सिनेमाघरों में भी फिल्म को देखने लोगों की उत्सुकता दिखी। पुलिस प्रोटेक्शन और निजी सुरक्षा के बीच ठंड में भी लोग फिल्म देखने सिनेमा हॉ़ल पहुंचे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 देश के इस गांव में पहली बार आई बिजली, गांववालों की खुशी देख पीएम नरेंद्र मोदी ने किया ये ट्वीट