ताज़ा खबर
 

छत्तीसगढ़: टिकट न मिलने पर कांग्रेस दफ्तर में जमकर बवाल, तोड़ डाली कुर्सियां और गमले

कार्यकर्ताओं के इस हंगामे पर पार्टी नेता आर. तिवारी का कहना है कि ये कांग्रेस के कार्यकर्ताओं की भावनाएं हैं, उन्हें बोलने का हक है। जो लोग हंगामा कर रहे थे, उनसे पीएल पुनिया ने बात की, जिसके बाद वह सभी चले गए।

बिलासपुर में भी कार्यकर्ताओं ने हंगामा किया। (फोटो सोर्स : ANI)

देश के पांच राज्यों में होने वाले विधासभा चुनाव की तैयारियों में सभी दल लगे हुए हैं। खासकर बीजेपी और कांग्रेस के लिए। सर्वे में आए रुझानों के बाद भाजपा के लिए यह चुनाव जहां साख बचाने का है तो वहीं कांग्रेस के लिए नाक बचाने का। छत्तीसगढ़ की बीजेपी सरकार से सत्ता छीनने के ख्वाब संजोए बैठी कांग्रेस के लिए इस चुनाव से पहले का समय किसी इम्तिहान से कम नहीं होने वाला है। भाजपा के लिए दूसरों को एकजुट करने निकली कांग्रेस अपनों को ही नाराज कर बैठी है। बीते गुरुवार को टिकट न मिलने पर कांग्रेस के कार्यालय पर जमकर बवाल कटा।

रमन सरकार को हटाने की तैयारी कर रही कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने पार्टी के रायपुर के ऑफिर से काफी हंगामा किया। परिसर में ही गमले और कुर्सियां तोड़ी गईं। दरअसल, टिकट मिलने की उम्मीद लगाए बैठे नेताओं को जब टिकट नहीं मिला तो उनके समर्थक हंगामे पर उतारू हो गए।

रायपुर दक्षिण सीट के लिए कार्यकर्ता रायपुर दक्षिण से कन्हैया अग्रवाल को टिकट देने से नाराज थे। इस सीट से राज्य सरकार में मंत्री बृजमोहन अग्रवाल का वर्चस्व है। इसी के चलते कांग्रेस ने जातिगत समीकरण बैठाने के लिए ही कन्हैया अग्रवाल को टिकट दिया है।

कार्यकर्ताओं के इस हंगामे पर पार्टी नेता आर. तिवारी का कहना है कि ये कांग्रेस के कार्यकर्ताओं की भावनाएं हैं, उन्हें बोलने का हक है। जो लोग हंगामा कर रहे थे, उनसे पीएल पुनिया ने बात की है जिसके बाद नाराज कार्यकर्ता चले गए।

रायपुर के साथ ही बिलासपुर में भी टिकट की नाराजगी के चलते गुरुवार को ही कार्यकर्ताओं ने हंगामा काटा। इस पर पार्टी के नेता नरेंद्र बोलर ने कहा, लगातार पार्टी के लिए काम कर रहे लोगों को टिकट की उम्मीद तो होती ही है। यहां कोई विद्रोही नहीं है। हम परिवार की तरह हैं। जो भाजपा को हराने के लिए एकजुट है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App