scorecardresearch

Chhattisgarh: क्या BJP में शामिल होंगे टीएस सिंह देव? भूपेश बघेल से सत्ता को लेकर जारी खींचतान के बीच दिया यह जवाब

Chhattisgarh News: अपनी पार्टी बनाने के सवाल पर कांग्रेस नेता टीएस सिंह देव ने कहा कि इसके लिए बहुत पैसे की जरूरत होती है।

Chhattisgarh: क्या BJP में शामिल होंगे टीएस सिंह देव? भूपेश बघेल से सत्ता को लेकर जारी खींचतान के बीच दिया यह जवाब
Congress नेता टीएस सिंह देव (Source- twitter/ @TS_SinghDeo)

Chhattisgarh Politics: छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री और कांग्रेस नेता टीएस सिंह देव (T S Singh Deo) ने पार्टी छोड़ने के सवाल पर गुरुवार को कहा कि वह वैचारिक मतभेदों को लेकर BJP के साथ गठबंधन नहीं कर सकते हैं। देव ने यह भी कहा कि उनकी अपनी राजनीतिक पार्टी बनाने की कोई योजना नहीं है।

BJP से नहीं मिलती विचारधारा

राजनांदगांव जिले के प्रवास के दौरान पत्रकारों से बात करते हुए टीएस सिंह देव ने कहा, “मेरी विचारधारा और जीवन का दर्शन भारतीय जनता पार्टी के साथ मेल नहीं खाता है इसलिए मैं कभी भी भाजपा में शामिल नहीं हो सकता। मेरी राजनीति यहां से क्या रास्ता अपनाती है यह भविष्य पर निर्भर करता है।” यह पूछे जाने पर कि क्या वह अपनी पार्टी बनाएंगे स्वास्थ्य मंत्री ने हंसते हुए कहा कि नहीं, इसके लिए बहुत पैसे की जरूरत है।

T S Deo और Bhupesh Baghel के बीच सत्ता का टकराव

2018 में कांग्रेस के सत्ता में आने के बाद से ही टीएस देव का भूपेश बघेल के साथ सत्ता का टकराव चल रहा है। चुनावों में मुख्यमंत्री की दौड़ में दावेदार रहे देव सीएम बघेल के कार्यभार संभालने के बाद खुद को दरकिनार महसूस कर रहे थे। सूत्रों के मुताबिक, यह कहा गया था कि कांग्रेस नेतृत्व ने प्रस्तावित किया था कि टीएस देव और भूपेश बघेल के बीच पांच साल का कार्यकाल विभाजित होगा। देव और बघेल दोनों ढाई-ढाई साल मुख्यमंत्री पद संभालेंगे, हालांकि कांग्रेस के दोनों वरिष्ठ नेताओं ने इस तरह की व्यवस्था से इनकार करते हुए इसे मीडिया अटकल बताया।

नहीं लड़ना चाहते हैं चुनाव- T S Singh Deo

वहीं दिसंबर 2022 में टीएस देव ने कहा था कि वह अब आगामी विधानसभा चुनाव नहीं लड़ना चाहते हैं, लेकिन अपने समर्थकों के साथ चर्चा के बाद कोई फैसला लेंगे। इससे पहले जुलाई 2022 में देव ने महत्वपूर्ण पंचायत और ग्रामीण विकास विभागों के प्रभार को यह कहते हुए छोड़ दिया था कि मुख्यमंत्री ने पीएम आवास योजना के तहत धन आवंटित नहीं किया था।

वहीं जब स्वास्थ्य मंत्री से ये पूछा गया कि पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह आपके राजनीतिक करियर को लेकर काफी चिंतित रहते हैं, इस पर टीएस देव ने कहा कि रमन सिंह बड़े भाई हैं और बड़े भाई को छोटे भाई की चिंता करनी भी चाहिए।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 19-01-2023 at 01:41:36 pm
अपडेट