ताज़ा खबर
 

छत्तीसगढ़: सुकमा में नक्सलियों के आइईडी विस्फोट में जवान की मौत

पुलिस अधीक्षक इरफान खान ने बताया कि पहला विस्फोट दोपहर करीब 11:45 बजे निर्माणाधीन मारैगुडा-गोपालपल्ली रोड पर मारैगुडा थाना क्षेत्र के पास हुआ

Author रायपुर | Published on: May 10, 2016 1:41 AM
चित्र का इस्तेमाल सिर्फ प्रतीक के तौर पर किया गया है।

छत्तीसगढ़ के उग्रवाद प्रभावित सुकमा जिले में कथित तौर पर नक्सलियों के किए गए अलग-अलग आइईडी विस्फोटों में सोमवार (9 मई) को डिस्ट्रिक्ट रिजर्व ग्रुप (डीआरजी) के एक जवान की मौत हो गई और एक असैन्य ड्राइवर घायल हो गया। सुकमा के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक इरफान खान ने बताया कि पहला विस्फोट दोपहर करीब 11:45 बजे निर्माणाधीन मारैगुडा-गोपालपल्ली रोड पर मारैगुडा थाना क्षेत्र के पास हुआ जिसमें डीआरजी जवान मकदम जोगा की मौत हो गई।

उन्होंने बताया कि रायपुर से करीब 450 किलोमीटर दूर क्षेत्र में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) और डीआरजी की एक संयुक्त टीम निर्माण कार्य में लगे मजदूरों को सुरक्षा देने के लिए इलाके में गश्त लगा रही थी। इसी दौरान डीआरजी से संबद्ध सहायक कांस्टेबल मदकम जोगा ने अनजाने में बारूदी सुरंग पर पांव रख दिया जिससे विस्फोट हो गया। उन्होंने बताया कि गंभीर रूप से घायल पुलिसकर्मी को तेलंगाना के भद्राचलम ले जाया गया, जहां उन्होंने दम तोड़ दिया। उन्होंने बताया कि करीब डेढ़ घंटे बाद उसी मार्ग पर एक और विस्फोट हुआ जिससे अर्थमूवर का ड्राइवर घायल हो गया।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि सड़क पर काम के दौरान अर्थ मूवर मशीन अचानक आइईडी की चपेट में आ गई। घायल ड्राइवर को तुरंत इलाज के लिए भद्राचलम ले जाया गया। पुलिस ने बताया कि उग्रवादियों को पकड़ने के लिए क्षेत्र में एक संयुक्त अभियान चलाया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories