Chhattisgarh: कांग्रेस MLA बोले- BJP वालों ने शिक्षा विभाग के साथ हमारे मंत्री को भी कर लिया है हाईजैक

छत्तीसगढ़ के कांग्रेस विधायक बृहस्पति सिंह ने आरोप लगाया है कि उनके मंत्री को भाजपा ने हाईजैक कर लिया है। मंत्री रिश्वत लेकर ट्रांसफर-पोस्टिंग करवा रहे है।

बृहस्पति सिंहकांग्रेस विधायक बृहस्पति सिंह (फोटो सोर्स – इंडियन एक्सप्रेस)

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस विधायक ने भाजपा पर राज्य शिक्षा विभाग और इसके मंत्री को हाईजैक कर लेने का आरोप लगाया है। कहा कि मंत्री तबादला कराने और अपनी पसंद का पद दिलाने के नाम पर रिश्वत भी लेते हैं। उन्होंने इसकी शिकायत मुख्यमंत्री, पार्टी के वरिष्ठ नेता मोती लाल वोरा और पुनिया जी को बताई है। हमने उनसे आग्रह किया है कि उन्हें जल्द से जल्द भाजपा के चंगुल से मुक्त कराया जाए। उनसे यह भी अनुरोध किया है कि यदि वह नहीं सुधरे तो उन्हें उनके पद से हटा दिया जाना चाहिए।

रिश्वत लेकर हो रही ट्रांसफर-पोस्टिंग : का आरोप है कि मंत्री जी ट्रांसफर और पोस्टिंग कराने और रिश्वत लेने का काम कर रहे हैं। इससे विभाग में भ्रष्टाचार बढ़ रहा है। पैसे देकर कई अधिकारी अपनी मनमानी और फायदे वाली जगह पर अपना तबादला करा ले  रहे हैं। इससे ईमानदार अफसरों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जो पैसे नहीं दे पा रहे हैं, उन्हें दूरदराज के इलाकों में डंप किया जा रहा है।

National Hindi News 14 Sep 2019 LIVE Updates: दिन भर की बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

शिक्षा विभाग में मनमानी ज्यादा: छत्तीसगढ़ के बलरामपुर जिले के रामानुजगंज क्षेत्र से पार्टी विधायक बृहस्पति सिंह इन दिनों नाराज हैं। उनका कहना है कि मंत्री और अफसर मनमानी कर रहे हैं। खास तौर पर शिक्षा विभाग में यह मनमानी ज्यादा है। इन सबके पीछे वह बीजेपी को जिम्मेदार मानते हैं। उनका कहना है कि बीजेपी ने उनके मंत्री और विभाग को अपने चंगुल में फंसा लिया है। अगर उन्हें जल्द से जल्द नहीं मुक्त कराया गया तो स्थिति और गंभीर हो जाएगी।

लापरवाही पर अफसरों को जेल भेजने को कहा : इससे पहले भी बृहस्पति सिंह ने अफसरों के रवैए पर अपना गुस्सा जता रहे थे। इस मामले में उनका एक वीडियो सामने आया था, जिसमें वो कह रहे थे, ‘जो अन्नदाता है, उसके साथ कोई अधिकारी गड़बड़ करेगा तो उसे किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इनकी जांच कराकर जेल भेजो, जूता मारना पड़े तो मारो, लेकिन किसानों को धोखा बर्दाश्त नहीं होगा।’ उनके इस विवादित बयान पर कई नेताओं और दलों ने नाराजगी जताई थी। विधायक का विवादित वीडियो पूरे राज्य में चर्चा का विषय बना हुआ है।

Next Stories
1 New Traffic Rules: ट्रैफिक नियम तोड़ने पर ट्रक ड्राइवर पर 6,53,100 रुपए का जुर्माना, टूटे सारे रिकॉर्ड
2 Bhopal: गणेश विसर्जन हादसे में परवेज ने भी गंवाईं थी जान, रोते हुए बोली मां- पूजा के लिए गया था अगरबत्ती खरीदने
3 Assam NRC: असम से वापस बुलाए गए 10,000 अर्धसैनिक बल, 31 अगस्त को जारी हुई थी एनआरसी की आखिरी लिस्ट 
यह पढ़ा क्या?
X