ताज़ा खबर
 

छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल का दावा- 2 देशों की थ्योरी वीर सावरकर ने रखी थी, जिन्ना ने बस साकार किया

बता दें कि अखिल भारतीय हिंदू महासभा ने मई 2018 में केंद्र सरकार से अपील की थी कि भारतीय करंसी से महात्मा गांधी की तस्वीर हटाकर सावरकर के फोटो लगाए जाएं। 

छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल (फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सोमवार (27 मई) को दावा किया कि हिंदुस्तान के 2 टुकड़े करके भारत और पाकिस्तान की थ्योरी का प्रस्ताव सबसे पहले वीर सावरकर ने रखा था। इसके बाद मोहम्मद अली जिन्ना ने इसे साकार कर दिया। बघेल ने यह बात नेहरू की 55वीं पुण्यतिथि के तहत आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान कही। उन्होंने कहा कि प्रजातंत्र में जनता का सबसे बड़ा हथियार सवाल पूछना है और देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू इसके समर्थक थे, लेकिन आज आप प्रधानमंत्री से सवाल नहीं कर सकते हैं। आज नेहरू के भारत को बदलने की कोशिश की जा रही है।

नेहरू की पुण्यतिथि पर दिया यह बयान: भूपेश बघेल ने कहा, ‘‘हिंदू महासभा के नेता विनायक दामोदर सावरकर ने देश के विभाजन के बीजारोपण का कार्य किया था, जिसे मोहम्मद अली जिन्ना ने साकार किया था।’’

बघेल ने दोहराई अपनी बात: कार्यक्रम के बाद बघेल ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘यह ऐतिहासिक तथ्य है कि हिंदू महासभा में सावरकर ने प्रस्ताव रखा था कि हिंदुस्तान आजाद हो तो 2 राष्ट्र के रूप में हो। धार्मिक आधार पर उन्होंने दो राष्ट्र की मांग रखी और जिन्ना ने उसे क्रियान्वित किया। यह ऐतिहासिक तथ्य है और इसे कोई झुठला नहीं सकता।’’

National Hindi News, 28 May 2019 LIVE Updates: पढ़ें आज की बड़ी खबरें

आज का भारत नेहरू की देन: राजीव भवन में कार्यक्रम के दौरान बघेल ने कहा कि आज का भारत नेहरू की देन है। नेहरू जी को बहुत से लोग जानते हैं, पर उनको पढ़ने वाले कुछ लोग भी यहां बैठे हैं। उनकी एक प्रसिद्ध पुस्तक ‘भारत एक खोज’ को जब हम पढ़ते हैं तो चकित हो जाते हैं। उनकी किताब में इतिहास भूगोल कला संस्कृति की जानकारी भी मिलती है।

नेहरू ने कहा था- कट्टरता देश के लिए नुकसानदायक: बघेल बोले, ‘‘नेहरू जी ने लिखा था कि कट्टरता कैसी भी हो, देश और समाज के लिए नुकसानदायक है। उन्हें जैसे ही देश के निर्माण की जिम्मेदारी मिली, उन्होंने एम्स, परमाणु कार्यक्रम, अंतरिक्ष कार्यक्रम की शुरुआत की थी।’’

रमन सिंह ने दी इतिहास पढ़ने की सलाह: बघेल के बयान को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह ने उन्हें इतिहास पढ़ने की सलाह दी है। रमन सिंह ने कहा, ‘‘भूपेश बघेल को इतिहास को फिर से पढ़ना चाहिए, उसे फिर से समझना चाहिए। इतिहास की समझ होनी चाहिए। विभाजन और विभाजन की पृष्ष्ठभूमि क्या थी, उस पर आज बहस की जरूरत नहीं है, लेकिन कम ज्ञान में ज्यादा बात बोलना ठीक नहीं होता है।’’

Next Stories
1 CCTV से खुलासा: गुरुग्राम में मुस्लिम युवक से सिर्फ मारपीट, न टोपी फेंकी और न ही शर्ट फाड़ी गई
2 गुजरात: दलित दूल्हे की बारात पर उच्च जाति के लोगों ने किया था पथराव, चोट लगने से घोड़ी ने तोड़ दिया दम
3 Bihar News Today, 28 May 2019: तेज प्रताप बोले- जिसको तेजस्वी का नेतृत्व पसंद नहीं वो RJD छोड़ सकता है
ये पढ़ा क्या?
X