scorecardresearch

Chhattisgarh: जानिए कौन हैं अरुण साव, जिनको BJP ने छत्तीसगढ़ का बनाया नया कप्तान

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने बिलासपुर लोकसभा क्षेत्र से पहली बार सांसद बने अरुण साव को भारतीय जनता पार्टी की छत्तीसगढ़ इकाई का नया प्रमुख बनाया है।

Chhattisgarh: जानिए कौन हैं अरुण साव, जिनको BJP ने छत्तीसगढ़ का बनाया नया कप्तान
प्रतीकात्मक तस्वीर (फोटो- द इंडियन एक्सप्रेस)

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने मंगलवार (9 अगस्त, 2022) को अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) नेता अरुण साव को पार्टी की छत्तीसगढ़ इकाई का प्रमुख बनाया है। इससे पहले आदिवासी नेता विष्णु देव साई जून 2020 से पार्टी के अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी संभाल रहे थे।

पार्टी सचिव अरुण सिंह की ओर से जारी एक पत्र में कहा गया कि बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने बिलासपुर लोकसभा क्षेत्र से पहली बार सांसद बने साव को नया प्रमुख बनाया है।

अरुण साव पेशे से एक वकील हैं और 1990 से बीजेपी की स्टूडेंट विंग अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) और अन्य संगठनों के सदस्य के रूप में विभिन्न गतिविधियों में सक्रिय रहे हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री और छत्तीसगढ़ में बीजेपी के वरिष्ठ नेता रमन सिंह ने साव को पार्टी की जिम्मेदारी मिलने पर बधाई दी। उन्होंने कहा कि उनके नेतृत्व में पार्टी के नेता और कार्यकर्ता पार्टी के लिए समर्पित रूप से काम करेंगे और छत्तीसगढ़ की सत्ता में फिर से बीजेपी को वापस लेकर आएंगे।

बीजेपी के अंदरूनी सूत्रों ने दावा किया कि कुछ दिन पहले इस बात की जानकारी मिली थी कि एक ओबीसी चेहरे को पार्टी में प्रतिष्ठित पद मिल सकता है। उन्होंने कहा, “पार्टी अब ओबीसी वोट बैंक पर ध्यान केंद्रित कर रही है, जिसका रुझान 2018 के चुनावों के दौरान कांग्रेस की तरफ हो गया था। वरिष्ठ नेताओं का विचार था कि पार्टी का नेतृत्व ओबीसी चेहरे को करना चाहिए। पार्टी के अध्यक्ष पद के लिए तीन नाम दिए गए थे।”

इस बीच, छत्तीसगढ़ बीजेपी में किए गए इस बदलाव को लेकर कांग्रेस ने पार्टी पर हमला बोला है। कांग्रेस ने इस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए, पार्टी के राज्य संचार विंग के प्रमुख सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि विश्व आदिवासी दिवस पर एक आदिवासी नेता को पद से हटाना “भाजपा की आदिवासी विरोधी विचारधारा को दर्शाता है”।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट