ताज़ा खबर
 

छत्तीसगढ़: सपा ने भी उतारे उम्मीदवार, दोनों चरणों के लिए कुल नौ चेहरों का ऐलान

राज्य में दो चरणों में 12 नवंबर और 20 नवंबर को चुनाव होगा। वोटों की गिनती 11 दिसंबर को होगी। इससे पहले भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी), कांग्रेस, जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे), बहुजन समाज पार्टी (पार्टी) मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) भी अपने-अपने उम्मीदवारों की घोषणा कर चुकी हैं। हालांकि, बीजेपी और कांग्रेस की अभी उम्मीदवारों की दूसरी सूचि आना बाकी है।

समाजवादी पार्टी का चुनाव चिन्ह साइकिल। (फोटो- एएनआई)

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के लिए समाजवादी पार्टी (सपा) ने अपने उम्मीदवारों के नामों का ऐलान कर दिया है। 90 सीटों के लिए दो चरणों में होने वाले मतदान में सपा ने कुल नौ उम्मीदवार उतारे हैं। पहले चरण के सपा के तीन उम्मीदवारों और दूसरे चरण में छह उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होगा। समचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक पहले चरण के चुनाव में सपा ने संतोष सुमन, बिमलेश दुबे और चबिंद्र वर्मा को क्रमश: बीजापुर, जगदलपुर और दंतेवाड़ा सीटों से उतारा है। वहीं, दूसरे चरण के मतदान के लिए सपा ने नवीन गुप्ता, योगेंद्र भोई, जिबान सिंह यादव, मुकेश लहारे, अमरनाथ अग्रवाल और सुबेंद्र सिंह यादव को उम्मीदवार बनाया है, जो क्रमश: रायपुर पश्चिम, बसना, अकलतरा, पामगढ़, कोरबा और वैशाली नगर सीट से चुनाव लड़ेंगे। बता दें कि राज्य में दो चरणों में 12 नवंबर और 20 नवंबर को चुनाव होगा। वोटों की गिनती 11 दिसंबर को होगी। इससे पहले भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी), कांग्रेस, जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे), बहुजन समाज पार्टी (पार्टी) मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) भी अपने-अपने उम्मीदवारों की घोषणा कर चुकी हैं। हालांकि, बीजेपी और कांग्रेस की अभी उम्मीदवारों की दूसरी सूचि आना बाकी है।

सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने अपनी पहली सूचि में 77 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा की है। कांग्रेस ने पहली सूचि में 12 उम्मीदवारों, जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) ने सात, और मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) ने महज तीन सीटों पर अपने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा की है। बहुजन समाजवादी पार्टी 33 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ रही है। बसपा पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी की जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के साथ मिलकर चुनाव लड़ रही है। बीते दिनों आए एबीपी और सी वोटर के सर्वेक्षण में दावा किया गया कि इस बार मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी विदाई हो सकती है और इन राज्यों में कांग्रेस वापसी कर सकती है।

मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में बीजेपी 15-15 वर्षों से शासन में है और चौथे कार्यकाल का दावा ठोक रही है। एबीपी और सी वोटर के सर्वेक्षण में कहा गया कि 200 सीटों वाले राजस्थान नें कांग्रेस के 142 सीटें, छत्तीसगढ़ की 90 विधानसभा सीटों में से 47 और मध्य प्रदेश की 230 सीटों में से कांग्रेस 122 सीटों पर परचम लहरा सकती है। हलांकि, इससे उलट कुछ अन्य सर्वेक्षणों में बीजेपी का पलड़ा भारी दिखाया गया।

Next Stories
1 मध्य प्रदेश: वोटरों को रिझाने के लिए जादूगर उतारेगी भाजपा, 15 साल के कामों का दिखाएगी मैजिक
2 Amritsar Train Accident: रेलवे ट्रैक पर प्रदर्शन कर रहे थे लोग, पुलिस ने बल प्रयोग कर भगाया
3 महाराष्ट्र: मोदी सरकार का दावा 16,000 गांव सूखा मुक्त कर दिए, विपक्ष ने उठाए सवाल
ये पढ़ा क्या?
X