ताज़ा खबर
 

ठगों ने पुलिसवाला बनकर मां-बेटी को लगाया लाखों का चूना

आनंद विहार इलाके में दो युवकों ने खुद को पुलिसवाला बताकर एक मां-बेटी को लाखों का चूना लगा दिया।
Author नई दिल्ली | June 5, 2016 01:35 am
anand vihar (representative image)

आनंद विहार इलाके में दो युवकों ने खुद को पुलिसवाला बताकर एक मां-बेटी को लाखों का चूना लगा दिया। इलाके के डी ब्लॉक में रहने वाली रेणु अग्रवाल अपनी बुजुर्ग मां को एजीसीआर स्थित एक आयुर्वेदिक अस्पताल ले गई थीं, वापस लौटते वक्त दो युवकों ने उन्हें झांसे में लिया और उनके गहने लेकर फरार हो गए।

पुलिस में दी गई शिकायत में रेणु ने बताया कि दोनों युवकों ने खुद को पुलिसवाला बताकर हमदर्दी जताते हुए उनसे कहा कि इलाके में लूटपाट और झपटमारी की वारदातें बढ़ रही हैं, लिहाजा गहने पहनकर चलने के बजाए उसे अंदर रख लें। युवकों ने एक कागज देकर मां-बेटी से तीन कंगन उतरवाए और उसे घर जाकर खोलने कहा।

घर में कागज खोलने पर पता चला कि कागज में पीतले के गहने रखे हैं। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। इस तरह की वारदात दिल्ली में आए दिन हो रही है। इससे पहले पूर्वी, उत्तर-पूर्वी और दक्षिणी दिल्ली में भी पुलिसवाला बताकर असली गहने के बदले नकली गहने देने का मामला सामने आ चुका है।

कारोबारी ने हरिद्वार में की खुदकुशी
दिल्ली के एक कारोबारी ने हरिद्वार के हरकी पैड़ी की एक धर्मशाला में जहर खाकर खुदकुशी कर ली है। कारोबारी की पहचान पालम के शारदानगर निवासी अमित कुमार वर्मा के रूप में हुई है। मरने से पहले लिखे एक पत्र में कारोबारी ने कर्ज और प्रॉपर्टी के कारोबार में नुकसान को खुदकुशी का कारण बताया है। बताया जा रहा है कि अमित ने 2 जून को हरकी पैड़ी स्थित धर्मशाला में किराए पर कमरा लिया था। अमित दिल्ली में आॅटो पार्ट्स का काम करता था।

सूत्रों के मुताबिक, शनिवार सुबह जब उस धर्मशाला के कर्मचारियों ने कमरे का दरवाजा खटखटाया तो वह नहीं खुला। काफी आवाज लगाने के बाद भी अंदर से कोई जवाब नहीं मिला तो उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने दरवाजा तोड़ा तो अंदर कारोबारी का शव पड़ा मिला। कारोबारी के पास से सुसाइड नोट भी मिला।

पत्नी की हत्या, पति गिरफ्तार
निहाल विहार इलाके में 30 मई को हुई एक महिला की हत्या के आरोप में पुलिस ने महिला के पति को शुक्रवार देर रात गिरफ्तार किया। पूछताछ में आरोपी प्रमोद ने बताया कि उसे पत्नी के चरित्र पर शक था। उसने हत्या के बाद शव के साथ शारीरिक संबंध बनाने की बात भी कबूली है।

पुलिस के मुताबिक, 30 मई को प्रमोद ने अपनी पत्नी मोनिका की दीवार में सिर मारकर हत्या कर दी थी। मूलरूप से बुलंदशहर निवासी प्रमोद ने बताया कि मोनिका उसकी भाभी की बहन है और दोनों ने छह महीने पहले प्रेम विवाह किया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.