ताज़ा खबर
 

Chandrayaan 2: उपराष्ट्रपति बोले- केवल लैंडर से संपर्क टूटा है, 1.3 अरब भारतीयों की उम्मीद नहीं

चंद्रयान -2 के लैंडर ‘विक्रम’ का चांद पर उतरते समय जमीनी स्टेशन से संपर्क टूट गया। संपर्क तब टूटा, जब लैंडर चांद की सतह से 2.1 किलोमीटर की ऊंचाई पर था।

Author नई दिल्ली | September 7, 2019 12:45 PM
vice presidentउपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

चंद्रयान-2 के लैंडर ‘विक्रम’ का चांद पर उतरते समय जमीनी स्टेशन से संपर्क टूटने पर उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने शनिवार (7 सितंबर) को कहा कि निराश होने वाली कोई बात नहीं है। नायडू के मंत्रालय ने ट्वीट किया, ‘‘ निराश होने की कोई जरूरत नहीं है। इसरो का केवल लैंडर से संपर्क टूटा है, 1.3 अरब भारतीयों की उम्मीद नहीं…। उपराष्ट्रपति ने कहा कि ऑर्बिटर अपने पेलोड के साथ अब भी काम कर रहा है।

उपप्रधानमंत्री ने दी भविष्य के लिए शुभकामनाएंः उन्होंने लिखा, ‘‘ मैं इसरो के वैज्ञानिकों, इंजीनियरों और चंद्रयान-2 से जुड़े सभी लोगों को अंतरिक्ष अन्वेषण में नए मोर्चे पर विजय प्राप्त करने के प्रयास में उनकी कड़ी मेहनत एवं प्रतिबद्धता के लिए सलाम करता हूं।’’नायडू ने भारतीय अनुसंधान संगठन (इसरो) को उनके भविष्य के प्रयासों के लिए शुभकामनाएं देते हुए कहा कि देश को उनपर गर्व है।
National Hindi News 07 September 2019 LIVE Updates: दिनभर की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

लैंडर विक्रम का चांद पर उतरते समय जमीनी स्टेशन से टूटा संपर्कः गौरतलब है कि चंद्रयान -2 के लैंडर ‘विक्रम’ का चांद पर उतरते समय जमीनी स्टेशन से संपर्क टूट गया। संपर्क तब टूटा, जब लैंडर चांद की सतह से 2.1 किलोमीटर की ऊंचाई पर था। लैंडर को रात लगभग एक बजकर 38 मिनट पर चांद की सतह पर लाने की प्रक्रिया शुरू की गई, लेकिन चांद पर नीचे की तरफ आते समय 2.1 किलोमीटर की ऊंचाई पर जमीनी स्टेशन से इसका संपर्क टूट गया।
Mumbai Rains, Weather Forecast Today Live Updates: नागपुर और विदर्भ में भारी बारिश की चेतावनी, PM मोदी का दौरा भी रद्द 

वहीं राष्ट्रपति कोविंद ने ट्वीट किया, ‘‘चंद्रयान-2 मिशन के साथ इसरो की समूची टीम ने असाधारण प्रतिबद्धता और साहस का प्रदर्शन किया है। देश को इसरो पर गर्व है।’’उन्होंने कहा, ‘‘हम सभी सर्वश्रेष्ठ की उम्मीद करते हैं।’’वहीं, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री हर्षवर्धन तथा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी इसरो वैज्ञानिकों से कहा कि वे निराश न हों और उनकी उपलब्धियों पर देश को गर्व है। इसके साथ ही कांग्रेस ने कहा कि देश इसरो के साथ खड़ा है और उसका प्रयास व्यर्थ नहीं जाएगा।

Next Stories
1 Jammu Kashmir: बारामूला में आतंकियों ने बरसाईं गोलियां, 4 साल की बच्ची समेत कई घायल; सेना अलर्ट
2 Chandrayaan-2 का ऑर्बिटर चंद्रमा की कक्षा में सुरक्षित, ISRO के अधिकारी का बयान; जग उठी उम्मीद
3 Chandrayaan-2 के बाद Gaganyaan Mission की तैयारी, अंतरिक्षयात्रियों के चयन की पहले चरण की प्रक्रिया पूरी
ये पढ़ा क्या?
X