ताज़ा खबर
 

चंडीगढ़: राफेल मुद्दे पर कांग्रेस कार्यालय के बाहर प्रदर्शन कर रहे थे बीजेपी कार्यकर्ता, पुलिस से हुई धक्का-मुक्की

पुलिस ने बीजेपी कार्यकर्ताओं पर वाटर कैनन का इस्तेमाल किया। इसी बीच हरियाणा बीजेपी के उपाध्यक्ष रामबीर भट्टी घायल हो गए।

राफेल विमान (फोटो सोर्स : Express File Photo)

राफेल डील विवाद थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। बता दें, कुछ दिन पहले सुप्रीम कोर्ट ने राफेल मामले पर सुनवाई करते हुए केंद्र सरकार को राहत दी थी। सुप्रीम कोर्ट ने उन सभी याचिकाओं को खारिज कर दिया था जिसमें कोर्ट की निगरानी में इस मामले की जांच कराने की मांग उठाई गई थी। सुनवाई के दौरान कोर्ट ने कहा था कि उसे इस सौदे और जेट विमानों की तकनीकी में कोई कमी नजर नहीं आती है। कोर्ट के फैसले के बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस पर दुष्प्रचार करने का आरोप लगाया है। जिसके तहत बुधवार को चंडीगढ़ स्थित कांग्रेस भवन पर प्रदर्शन किया गया।

पुलिस के साथ धक्का-मुक्की में बीजेपी नेता घायल-

जिस समय बीजेपी के द्वारा कांग्रेस भवन का घेराव किया जा रहा था उस दौरान पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की। पुलिस ने बीजेपी कार्यकर्ताओं पर वाटर कैनन का इस्तेमाल किया। इसी बीच हरियाणा बीजेपी के उपाध्यक्ष रामबीर भट्टी घायल हो गए। बता दें, पिछले चार साल में बीजेपी ने पहली बार कांग्रेस के खिलाफ प्रदर्शन किया है। प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने थाने के पास बैरिकेड्स लगाकर उन्हें रोकने की कोशिश की थी लेकिन बीजेपी के कार्यकर्ता नहीं माने। जिससे कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच धक्का-मुक्की की नौबत आई।

इस पूरे मामले पर बीजेपी के पार्षद सतीश कैंथ ने कहा कि उपाध्यक्ष रामवीर भट्टी के घायल होने के बाद उन्हें गाड़ी में अस्पताल ले जाया गया। जबकि पुलिस को वहां पर एंबुलेंस की व्यवस्था करनी चाहिए थी। पुलिस को जब यह संभावना थी कि हंगामा हो सकता है तो उन्होंने एंबुलेंस की व्यवस्था क्यों नहीं की। गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद भी कांग्रेस पार्टी लगातार राफेल के मुद्दे को जोर-शोर से उठा रही है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी लगातार राफेल मामले में अनिल अंबानी पर निशाना साध रहे हैं।

राहुल का बीजेपी पर निशाना-

राहुल का कहना है कि केंद्र सरकार ने अनिल अंबानी की कंपनी को फायदा पहुंचाया है। वहीं केंद्र सरकार ने कई मंचों से राहुल गांधी के आरोपों को सिरे से नकारा है। कई बार रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण के द्वारा कांग्रेस पार्टी के आरोपों का जवाब दिया गया है। कोर्ट ने कहा है कि केंद्र सरकार के फैसले पर यूं सवालिया निशान लगाना ठीक बात नहीं है। बता दें कि ये याचिकाएं जेट विमानों की डील में अनियमितताओं को लेकर दाखिल की गई थीं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 तीसरी मंजिल से गिरकर हुई थी मजदूर की मौत, मेडिकल रिपोर्ट में बदला लिंग और उम्र
2 प्रेमिका के लिए पाकिस्तान गए हामिद अंसारी ने लौटकर कहा- फेसबुक पर कभी न करें प्यार, दी ये 3 हिदायत
3 कर्नाटक: पुलिस का दावा- अपमान का बदला लेना चाहता था महंत, सहयोगियों संग प्रसाद में मिलाया कीटनाशक
ये पढ़ा क्या?
X