ताज़ा खबर
 

केंद्र सरकार का बड़ा ऐलान: जम्मू-कश्मीर, लद्दाख के सरकारी कर्मचारियों को 7वें वेतन आयोग के अनुसार मिलेगा वेतन, साढ़े चार लाख को होगा फायदा

केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने एक आदेश जारी कर यह ऐलान किया है कि केन्द्र शासित जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के सरकारी कर्मचारियों को इस साल 7वें वेतन आयोग के अनुसार वेतन मिलेगा।

Author नई दिल्ली | Updated: October 22, 2019 5:36 PM
जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोग (सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस फाइल फोटो)

नए केन्द्र शासित प्रदेशों जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के सरकारी कर्मचारियों को 31 अक्टूबर से 7वें वेतन आयोग की सिफारिश के अनुसार वेतन और अन्य लाभ मिलेंगे। अधिकारियों ने मंगलवार (22 अक्टूबर) को बताया कि केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने इस संबंध में जरुरी आदेश जारी किए हैं। बता दें कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को केंद्र सरकार द्वारा बांटे जाने के बाद यह पहला मौका है जब निवासी को सरकार के तरफ से कुछ खास मिल रहा है। सरकार ने यह फैसला लेकर दो केन्द्र शासित प्रदेशों के निवासियों को लुभाने का पर्यास कर रही है।

7वें वेतन आयोग के तहत वेतन और भत्ते मिलेगाः गृह मंत्री अमित शाह ने केन्द्र शासित प्रदेशों जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के सरकारी कर्मचारियों को 7वें वेतन आयोग की सिफारिशों को मंजूरी दे दी है। इस नई मंजूरी के अनुसार, सरकारी कर्मचारियों को 7वें वेतन आयोग के तहत वेतन और भत्ते दिए जाएंगे। बता दें कि दोनों केन्द्र शासित प्रदेश 31 अक्टूबर से अस्तित्व में आएंगे।

Hindi News Today, 22 October 2019 LIVE Updates: दिन भर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

बड़ी संख्या में कर्मचारियों को लाभ होगाः बता दें कि फिलहाल जम्मू-कश्मीर सरकार के साढ़े चार लाख कर्मचारियों को इसका लाभ होगा। ये सभी 31 अक्टूबर से केन्द्र शासित प्रदेशों जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के सरकारी कर्मचारी बन जाएंगे। केन्द्र सरकार ने पांच अगस्त को संविधान के अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को निरस्त कर दिया था और राज्य को दो केन्द्र शासित प्रदेशों जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में बांट दिया था।

अनुच्छेद 370 के हटाए जाने के बाद की स्थितिः जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को अनुच्छेद 370 के माध्यम से अलग करने के बाद कश्मीर में अभी भी तनाव के हालात बने हुए हैं। सुरक्षा बलों की तैनाती भी पूरे कश्मीर में है। इसके साथ कई इलाकों में लोगों के घर से बाहर निकलने पर भी पाबंदी लगी हुई है। वहीं लद्दाख में माहौल काफी शांत है। बता दें कि लद्दाख के लोगों ने सरकार के इस फैसले का स्वागत किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 अयोध्या में दिवाली की खास तैयारीः योगी सरकार ने दीपोत्सव को दिया राज्य मेले का दर्जा
2 Diwali 2019: भारतीय मूर्तिकारों ने समझी चीन की तकनीक, इस दिवाली बाजार में छाईं मेक इन इंडिया मूर्तियां, चीन के आइटम हुए गायब
3 दिल्ली के इन स्टेशनों पर अब नहीं मिलेगा प्लेटफार्म टिकट, जानें क्या है कारण