ताज़ा खबर
 

चार युवकों पर केंद्रीय मंत्री स्‍मृति ईरानी की कार का पीछा करने का आरोप, पुलिस में शिकायत दर्ज

चारों युवक दिल्‍ली यूनिवर्सिटी के तहत राम लाल आनंद कॉलेज के पढ़ने वाले हैं।

smriti irani, smriti irani car chase, smriti irani chased,स्‍मृति ईरानी, स्‍मृति ईरानी की कार का पीछा, central textiles minister smriti irani, delhi police, chankyapuri police, delhi news, jansattaकेंद्रीय मंत्री स्‍मृति ईरानी ने अपनी कार का पीछा करने का मामला पुलिस में दर्ज कराया है।

केंद्रीय मंत्री स्‍मृति ईरानी ने अपनी कार का पीछा करने का मामला सामने आयाहै। इस बारे में उन्‍होंने दिल्‍ली के चाणक्‍यपुरी थाने में इसकी शिकायत की है। आरोप है कि कार सवार चार युवकों ने उनकी कार का पीछा किया और कार को ओवरटेक करने का प्रयास किया। मामला शनिवार (एक अप्रैल) को शाम साढ़े पांच बजे का दिल्ली के चाणक्यपुरी इलाके का है। चारों युवक दिल्‍ली यूनिवर्सिटी के तहत राम लाल आनंद कॉलेज के पढ़ने वाले हैं। उनका मेडिकल कराया गया है ताकि पता लगाया जा सके कि वे नशे में थे या नहीं। उनसे पूछताछ की जा रही है। जानकारी के अनुसार कपड़ा मंत्री स्‍मृति ईरानी एयरपोर्ट से जा रही थीं, इसी दौरान चार कार सवार युवक उनकी गाड़ी का पीछा करने लगे। इस पर स्मृति ईरानी ने 100 नंबर पर फोन कर पुलिस को जानकारी दी। हालांकि पुलिस ने अभी एफआईआर दर्ज नहीं की है।

स्‍मृति र्इरानी ने साल 2015 में गोवा में फैब इंडिया के ट्रायल रूम की ओर कैमरा लगाए जाने की शिकायत की थी। उन्‍होंने अपनी शिकायत में कहा था कि फैब इंडिया के कंडोलिम स्थित स्टोर में कैमरा ट्रायल रूम की ओर लगाया गया था। इससे लोगों की रिकॉर्डिंग की जा रही थी। पुलिस ने इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार भी किया था।

स्‍मृति ईरानी गुजरात से राज्‍य सभा सांसद हैं। नरेंद्र मोदी के नेतृत्‍व में सरकार बनने के बाद उन्‍हें मानव संसाधन मंत्री बनाया गया था। लेकिन मंत्रीमंडल फेरबदल के दौरान उनसे यह मंत्रालय छीन लिया गया था। उन्‍हें कपड़ा मंत्रालय दिया गया था। मानव संसाधन मंत्री के कार्यकाल के दौरान स्‍मृति ईरानी काफी विवादों में रही थीं। विश्‍वविद्यालयों के वाइस चांसलर्स की नियुक्तियों को लेकर उनपर काफी आरोप लगे थे। साथ ही हैदराबाद यूनिवर्सिटी के छात्र रोहित वेमुला की आत्‍महत्‍या के मामले ने भी उनके मंत्रालय की काफी किरकिरी कराई थी।

अमेरिकी अखबार ने उनके लिए लिखा था कि वे मोदी सरकार में सबसे अधिक फजीहत झेलने वाली मंत्री हैं। स्‍मृति ईरानी की डिग्री को लेकर भी सवाल उठे हैं। यह मामला अभी कोर्ट में चल रहा है। ईरानी ने अपने चुनाव दस्‍तावेजों में लिखा था कि उन्‍होंने येल यूनिवर्सिटी से डिग्री ले रखी है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 40 हजार करोड मांग रहे तमिलनाडु के किसानों को नरेन्द्र मोदी सरकार ने दिये 1700 करोड रुपये
2 अखिलेश यादव के ड्रीम प्रोजेक्ट गोमती रिवर फ्रंट की सीएम आदित्यनाथ कराएंगे जांच, 45 दिन में मांगी रिपोर्ट
3 योगी आदित्य नाथ के ड्राइवर को भरना पड़ा 500 रुपये जुर्माना, ड्यूटी पर चबा रहा था तंबाकू
ये पढ़ा क्या?
X