ताज़ा खबर
 

CBSE का एलान- पंजाब में 10वीं और 12वीं की टाली गई परीक्षाएं 27 अप्रैल को होंगी

सीबीएसई के परीक्षा नियंत्रक के के चौधरी ने कहा, ‘‘पंजाब में रद्द की गई परीक्षाओं को 27 अप्रैल को कराने का निर्णय किया गया है। छात्रों को पहले आवंटित किया गया रोल नम्बर और परीक्षा केंद्र इन परीक्षाओं के लिए भी वही रहेगा।’’

Author नई दिल्ली | April 10, 2018 9:12 PM
दो अप्रैल को होने वाले इम्तिहानों को टाल दिया गया था। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

सीबीएसई ने मंगलवार को कहा कि दो अप्रैल को भारत बंद के कारण पंजाब में कक्षा 10 वीं और 12 वीं की स्थगित की गई परीक्षाएं अब 27 अप्रैल को होंगी। एससी/एसटी (अत्याचार निवारण) अधिनियम के मुद्दे को लेकर कई दलित संगठनों द्वारा आहूत बंद के मद्देनजर राज्य सरकार की गुजारिश पर केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने दो अप्रैल को होने वाले इम्तिहानों को टाल दिया था। सीबीएसई के परीक्षा नियंत्रक के के चौधरी ने कहा, ‘‘पंजाब में रद्द की गई परीक्षाओं को 27 अप्रैल को कराने का निर्णय किया गया है। छात्रों को पहले आवंटित किया गया रोल नम्बर और परीक्षा केंद्र इन परीक्षाओं के लिए भी वही रहेगा।’’ कक्षा 12 वीं के छात्रों को हिन्दी की परीक्षा देनी थी जबकि 10 वीं कक्षा के विद्यार्थियों का फ्रेंच, संस्कृत और उर्दू का इम्तिहान था।

दूसरी तरफ, केरल उच्च न्यायालय ने सोमवार को 10 वीं कक्षा की एक छात्रा की रिट याचिका विचारार्थ स्वीकार कर ली। छात्रा ने अपनी अर्जी में कहा है कि हाल में आयोजित गणित की परीक्षा में उसे 2016 का प्रश्न पत्र दिया गया था। उसने अदालत से आग्रह किया कि उसकी उत्तर पुस्तिका का मूल्यांकन उसी प्रश्न पत्र के आधार पर किया जाए। अमीया सलीम नामक छात्रा ने अदालत से कहा कि गणित की परीक्षा में उसे 2016 का प्रश्न पत्र मिला था।

HOT DEALS
  • Moto G6 Deep Indigo (64 GB)
    ₹ 15803 MRP ₹ 19999 -21%
    ₹1500 Cashback
  • Honor 7X Blue 64GB memory
    ₹ 16699 MRP ₹ 16999 -2%
    ₹0 Cashback

कोट्टायम के कांजीकुझि स्थित माउंट कार्मेल विद्यानिकेतन सीनियर सेकेंडरी स्कूल की प्रधानाध्यापक 28 मार्च को अमीया को दिए गए प्रश्न पत्र से जुड़ी विसंगति की शिकायत पहले ही केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) से कर चुकी हैं। अमीया की याचिका को विचारार्थ स्वीकार करते हुए न्यायमूर्ति शाजी पी चली ने कहा कि इस मामले की सुनवाई पूरी होने तक सीबीएसई पर याचिकाकर्ता के लिए अकेले पुनर्परीक्षा आयोजित करने पर रोक नहीं होगी। उच्च न्यायालय की गर्मियों की छुट्टी के बाद इस मामले की सुनवाई होगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App