ताज़ा खबर
 

अखिलेश को एयरपोर्ट पर रोकने के चलते हुआ था बवाल, दो सांसद सहित 296 लोगों पर केस दर्ज

समाजवादी पार्टी के मुखिया व उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री को लखनऊ एयरपोर्ट पर रोके जाने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है।

अखिलेश यादव, फोटो सोर्स- ट्विटर (@yadavakhilesh)

समाजवादी पार्टी के मुखिया व उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री को लखनऊ एयरपोर्ट पर रोके जाने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। जिसके चलते मंगलवार को सपा कर्मचारियों ने जमकर प्रदर्शन किया। इसके साथ ही कुछ ऐसे वीडियोज भी देखने को मिले जिसमें सपा वर्कर्स पुलिसकर्मियों तक भी हमला करने से पीछे नहीं हटे। इस पूरे मामले में अब यूपी पुलिस ने 296 लोगों पर केस दर्ज किया है। वहीं समाजवादी पार्टी के दो सांसदो सहित 46 लोगों पर नामजद मुकदमा भी दर्ज किया गया है।

क्या है पूरा मामला: दरअसल मंगलवार सुबह अखिलेश यादव लखनऊ एयरपोर्ट से प्रयागराज के लिए रवाना हो रहे थे। लेकिन किसी कारण से यूपी पुलिस ने उन्हें एयरपोर्ट पर रोक लिया। गौरतलब है कि अखिलेश इलाहबाद यूनिवर्सिटी के छात्र संघ के कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए जा रहे थे। एयरपोर्ट पर अखिलेश को रोके जाने के बाद उन्होंने एक ट्वीट भी किया था जिसमें उन्होंने लिखा था- एक छात्र नेता के शपथ ग्रहण कार्यक्रम से सरकार इतनी डर रही है कि मुझे लखनऊ हवाई-अड्डे पर रोका जा रहा है। वहीं एयरपोर्ट का वीडियो भी सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था।

प्रयागराज में सड़क पर उतरे सपा कार्यकर्ता: एयरपोर्ट पर सपा मुखिया को रोके जाने के विरोध के चलते सपा वर्कर्स प्रयागराज में सड़कों पर उतर आए। लाल रंग की टोपी पहन उन्होंने जमकर हंगामा किया। ऐसे में जब पुलिस उन्हें रोकने की कोशिश करती है तो वो उलटा पुलिस को ही थप्पड़ जड़ देते हैं। इसके बाद जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने भी जमकर सपाइयों पर लाठियां भांजी। इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था। हालांकि जनसत्ता उस वीडियो की पुष्टि नहीं करता है। वहीं इस उपद्रव में पुलिस महानिरीक्षक मोहित अग्रवाल के मुताबिक विरोध प्रदर्शन के दौरान सपा कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया। जिसमें 2 सीओ समेत कई पुलिसकर्मी घायल हुए। इस दौरान बदायूं जिले से एसपी धर्मेंन्द्र यादव भी घायल हुए।

सीएम योगी का क्या है कहना: अखिलेश यादव को एयरपोर्ट पर रोके जाने को लेकर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रयागराज में वर्तमान में कुंभ जारी है। दस दिन पहले ही वो कुंभ गए भी थे। वहीं इलाहबाद यूनिवर्सिटी में अराजकता न हो इसलिए अखिलेश को रोका गया। यूनिवर्सिटी प्रशासन और प्रयागराज जिला प्रशासन ने इस बात की मांग की थी। इसके साथ ही अखिलेश पर योगी ने वार करते हुए कहा था कि एसपी अराजकता के लिए जानी जाती है और अगर वो यूनिवर्सिटी जाते तो बवाल होता।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App