ताज़ा खबर
 

केंद्रीय मंत्री के लिए रेलवे प्लेटफॉर्म पर चढ़ा दी कार! वीडियो वायरल होने के बाद नरेंद्र सिंह तोमर ने दी सफाई

मध्यप्रदेश के ग्वालियर रेलवे स्टेशन पर मंगलवार की रात एक बजे प्लेटफार्म नंबर 1 पर वीवीआईपी को रिसीव करने ड्राइवर गाड़ी लेकर चला आया। इस घटना का वीडियो वायरल होने पर हड़कंप मच गया है।

केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर ने रेलवे प्लेटफार्म पर कार चढ़ाए जाने के मामले पर सफाई दी। (Photo: ANI)

देश में भले ही वीवीआईपी कल्चर को खत्म करने की बात की जा रही है, लेकिन कुछ लोग ऐसे हैं, जो इसे अपना शान समझते हैं। मध्यप्रदेश के ग्वालियर में एक ऐसा ही मामला सामने आया है। यहां मंगलवार की रात एक ड्राइवर गाड़ी (MP07BR4997) लेकर वीवीआईपी को रिसीव करने सभी नियम कानून तोड़ते हुए सीधे प्लेटफार्म पर पहुंच गया। इस दौरान न तो किसी रेलवे अधिकारी ने और न हीं किसी रेलवे सुरक्षाबल के जवान ने उसे रोकने की कोशिश की। हालांकि, यात्रियों ने इसका वीडियो बना लिया। इस घटना का वीडियो वायरल होने पर हड़कंप मच गया है। कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि जिस वीवीआईपी को रिसिव करने ड्राइवर कार लेकर प्लेटफार्म पर चला गया था, वो वीवीआईपी केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर थे। मध्य प्रदेश कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा कि, “नियमों की अनदेखी करना और तोड़ना भाजपा की पुरानी आदत है।” हालांकि, नरेंद्र तोमर ने इस आरोप को बेबुनियाद बताया। नरेंद्र तोमर ने अपनी सफाई में कहा कि, “कांग्रेस हमेशा झूठा आरोप लगाती है। मुझे नहीं पता वो कार किसकी थी। मुझे इस घटना के बारे में कुछ भी मालूम नहीं है।”

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, मंगलवार की रात एक बजे प्लेटफार्म नंबर 1 पर काफी भीड़ भाड़ थी। कुछ लोग ट्रेन पकड़ने का इंतजार कर रहे थे, तो कुछ अपने लोगों के आने का इंतजार कर रहे थे। इस दौरान एक गाड़ी प्लेटफार्म पर चली आयी। बताया जाता है कि गाड़ी को होटल एंबियंस के पास बने वीवीआईपी गेट से अंदर लाया गया था।

इस पूरे मामले पर एक रेल अधिकारी का कहना है कि, “ये तो पहले देखना पड़ेगा कि कैसी गाड़ी आयी, कैसे आयी, उसी के हिसाब से कार्रवाई की जाएगी। प्लेटफार्म पर किसी तरह की गाड़ी के आने की इजाजत नहीं है। जांच पूरी होने के बाद दोषी के खिलाफ रेलवे एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App