ताज़ा खबर
 

बलिया गोलीकांड: ‘आरोपी ने आत्मरक्षा में चलाई थी गोली’, BJP विधायक बोले- कहीं भी हो सकती है ऐसी घटना

अधेड़ शख्स की हत्या के मामले में पुलिस ने आठ लोगों को नामजद किया है। वाराणसी जोन के एडीजी ब्रज भूषण ने बताया कि नामजद में से एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

गुरुवार की दोपहर कोटे की दुकान के आंवटन के दौरान अधेड़ की हत्या कर दी गई थी। (वीडियो स्क्रीनशॉट)

उत्तर प्रदेश के बलिया स्थित दुर्जनपुर में खुली पंचायत में एक व्यक्ति (46) की हत्या का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। बताया जाता है कि आरोपी भाजपा कार्यकर्ता है और पार्टी विधायक सुरेंद्र सिंह का करीबी है। इधर विधायक ने बताया कि मुख्य आरोपी बलिया में भाजपा का पूर्व कार्यकर्ता था।

हालांकि उन्होंने इस बीच आश्चर्यजनक रूप से कहा कि ऐसी घटना ‘कहीं भी हो सकती है’ और अभियुक्त ने खुद की रक्षा में गोली चलाई थी।भाजपा विधायक ने कहा, ‘ये एक दुर्घटना है जो कहीं भी हो सकती है। इस घटना में दोनों तरफ से पथराव हुआ था। कानून अपना काम करेगा।’

अधेड़ शख्स की हत्या के मामले में पुलिस ने आठ लोगों को नामजद किया है। वाराणसी जोन के एडीजी ब्रज भूषण ने बताया कि नामजद में से एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने कहा, ‘किसी भी आरोपी को छोड़ा नहीं जाएगा और दोषी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। यहां तैनात किए गए सभी पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है।’

अपर मुख्य सचिव (गृह) अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा, ‘मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने घटना पर गंभीरता से संज्ञान लेते हुए निर्देश दिया है कि घटनास्थल पर मौजूद एसडीएम और पुलिसकर्मियों को तत्काल निलंबित कर दिया जाएगा और आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए।’ उन्होंने कहा कि अधिकारियों की भूमिका की भी जांच की जाएगी और जिम्मेदार पर आपराधिक कार्रवाई की जाएगी।

उल्लेखनीय है कि गुरुवार की दोपहर कोटे की दुकान के आवंटन के दौरान शख्स की हत्या कर दी गई थी। एक चश्मदीद ने बताया कि बलिया के दुर्जनपुर में सरकारी कोटे की दुकानों के आवंटन की कार्रवाई चल रही थी। क्षेत्र के एसडीएम की निगरानी में काम हो रहा था। तभी आवंटन के दावेदार दो पक्षों में विवाद हो गया। ये इतना बढ़ गया कि दोनों पक्षों में गाली-गलौज, मारपीट और ईंट पत्थर चलने लगे। इसी बीच एक पक्ष की तरफ से गोलियां चलने लगीं।

इस दौरान बैरिया से भाजपा विधायक के करीबी धीरेंद्र प्रताप सिंह ने दूसरे पक्ष के जयप्रकाश पाल को गोली मार दी। गोली लगते ही वो जमीन पर गिर पड़े। वहां मौजूद लोगों ने उन्हें तुरंत हॉस्पिटल पहुंचाया, मगर उन्हें बचाया नहीं जा सका। इस गोलीकांड में करीब एक दर्जन लोग भी घायल हुए हैं।

Next Stories
1 सारे मदरसे बंद कर दीजिए, पर 6 करोड़ हिंदुओं को दे दें नौकरी और 15 लाख- PM का वादा याद दिला शो में बोले असीम वकार
2 Bihar Elections 2020: चिराग ने कहा था- BJP से नहीं है दिक्कत, पर सुशील मोदी बोले- LJP वाले हैं ‘वोट कटवा’, उन्हें देकर बर्बाद न करें वोट
3 मामू, ऐसा क्या कारोबार है आपका कि इतनी बढ़ गई दौलत? दिग्विजय सिंह ने शिवराज से पूछा, हुए ट्रोल
ये पढ़ा क्या?
X