ताज़ा खबर
 

चेन्‍नई: कुत्‍तों से घबराए चोर, दरवाजे पर छोड़ गए 16 लाख का सोना

पुलिस ने जांच के दौरान इम्तियाज के घर के सभी फिंगरप्रिंट्स ले लिए और पड़ताल करनी शुरू की। पीड़ित महिला के रिश्तेदारों और पड़ोसियों ने पुलिस अधिकारियों की सहायता करने से मना कर दिया था, जिसके कारण पुलिस को शक हुआ कि घटना के पीछे अंदर के ही किसी व्यक्ति का हाथ हो सकता है।

तस्वीर का प्रयोग प्रतीक के तौर पर किया गया है। (एक्सप्रेस फोटो)

हम आए दिन चोरी और लूट की कई तरह की खबरें सुनते हैं। कई ऐसी खबरें सुनते हैं, जिनके कारण हमारे दिमाग में ढेर सारे सवाल खड़े हो जाते हैं, तो कई ऐसी खबरें सुनने को मिलती हैं जो हमें आश्चर्य में डाल देती हैं। हाल ही में तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई में चोरी की एक बेहद ही अहम वारदात सामने आई है, यहां पुलिस के कुत्तों से घबराकर चोर ने चुराए हुए 16 लाख रुपए के सोने के जेवरों को वापस कर दिया है। यह घटना है चेन्नई के पेरांबुर की। टीओआई के मुताबिक यहां चिन्नास्वामी स्ट्रीट स्थित एक मकान से 40 वर्षीय महिला के 16 लाख रुपए के जेवर चोरी हो गए थे, लेकिन चोर ने एक ही हफ्ते के अंदर एक बैग में सारे गहने भरकर वापस कर दिए।

दरअसल, इम्तियाज नाम की महिला अपने बच्चों के साथ 26 अगस्त को कहीं बाहर गई थी। जब इम्तियाज रात करीब 10.30 बजे अपने परिवार के साथ वापस आईं, तो उन्होंने देखा कि उनके घर का दरवाजा खुला हुआ है और कई कीमती सामान भी गायब हैं। इम्तियाज ने तुरंत ही सेम्बियम पुलिस में शिकायत दर्ज कराई।

पुलिस ने जांच के दौरान इम्तियाज के घर के सभी फिंगरप्रिंट्स ले लिए और पड़ताल करनी शुरू की। पीड़ित महिला के रिश्तेदारों और पड़ोसियों ने पुलिस अधिकारियों की सहायता करने से मना कर दिया था, जिसके कारण पुलिस को शक हुआ कि घटना के पीछे अंदर के ही किसी व्यक्ति का हाथ हो सकता है। पुलिस ने घटनास्थल से रवाना होने के पहले पीड़ित महिला और उसके परिवार के सामने यह कहा कि चोरी के पीछे जिस किसी का भी हाथ है, उसे जल्द ही पकड़ा जाएगा और इस मामले में पुलिस अपने कुत्तों की मदद लेगी। पुलिस ने हिंट दिया कि इस पूरी वारदात के पीछे किसी अंदर के व्यक्ति का ही हाथ है। एक जांच अधिकारी ने बताया, ‘एक संदिग्ध हमारी नजरों में है और हम इस केस को दो दिन में ही हल कर लेंगे।’

रविवार को इम्तियाज की 71 वर्षीय मां जमीला को घर के दरवाजे में एक बैग मिला, जिसके अंदर सभी गायब हुए जेवर रखे हुए थे। पुलिस का कहना है कि चोर ने सारा सामान वापस कर दिया है। पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘हमें परिवार के ही किसी सदस्य या फिर किसी जानने वाले व्यक्ति के ऊपर शक था। हमने शनिवार को वार्निंग दी थी कि हमारे कुत्तों का इस्तेमाल करके दोषी को पकड़ लिया जाएगा। हमें लगता है कि हमारी धमकी से चोर डर गया। यह केवल हमारी एक ट्रिक थी। पीड़ित महिला एक बड़े संयुक्त परिवार की सदस्य है, उसके परिवार ने इस मामले की जांच में हमारा सहयोग नहीं किया था।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App