X

UP: टोंटी विवाद वाले बंगले को लेकर मंत्रियों-अफसरों में होड़, सिद्धार्थनाथ सिंह का आया दिल; CM को चिट्ठी लिख मांगा

यह बंगला राजधानी लखनऊ में विक्रमादित्य मार्ग पर है। समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष और पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कुछ दिन पहले ही इसे खाली किया था। खाली बंगले में तोड़फोड़ किए जाने का मामला सामने आया था।

उत्तर प्रदेश में टोंटी विवाद वाले बंगले को लेकर होड़ मची हुई है। मंत्रियों से लेकर अफसर तक इसमें रहने का ख्वाब देख रहे हैं। हाल ही में सूबे के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह का इस पर दिल आ गया। उन्होंने इसमें रहने के लिए इच्छा जताई। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को उन्होंने इस बाबत चिट्ठी भी लिखी थी। सिंह योगी सरकार में मंत्री होने के साथ वह पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के नाती हैं। इलाहाबाद पश्चिमी से विधायक हैं।

उन्होंने बंगले के संबंध में 31 मई को लिखी चिट्ठी में कहा था, “मुझे आवास संख्या 19 गौतमपल्ली मार्ग पर मंत्री आवास आवंटित है। लेकिन वहां कैंप कार्यालय के स्टाफ, मेहमानों और आम जनता को बैठाने के लिए पर्याप्त जगह नहीं है। हमें इसके कारण असुविधा होती है। ऐसे में जो पूर्व सीएम के नाम से आवंटित बंगले खाली कराए जा रहे हैं, उनमें से मुझे गौतमपल्ली मंत्री आवास के बजाय 4 विक्रमादित्य मार्ग या 5 विक्रमादित्य मार्ग आवास में से कोई एक आवास आवंटित करें।”

यह बंगला राजधानी लखनऊ में विक्रमादित्य मार्ग पर है। समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष और पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कुछ दिन पहले ही इसे खाली किया था। मीडिया के लिए नौ जून को अखिलेश के पुराने बंगले के दरवाजे खोले गए थे। अंदर का नजारा देख मीडिया दंग रह गई थी। बंगले का खूबसूरत स्विमिंग पूल, लॉन और स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स उजड़ा मिला। कमरों में एसी, स्विच बोर्ड, बल्ब और वायरिंग तक गायब थी। खाली बंगले में तोड़फोड़ किए जाने का मामला सामने आया था। बंगले की कुछ तस्वीरें भी सामने आई थीं, जिसमें टाइल्स और टोंटी तक उखड़ी मिली थी।

अखिलेश ने तब साफ किया था कि उन्हें यह बदनाम करने की सिर्फ साजिश थी। बंगला में निर्माण उन्होंने खुद के पैसे से कराया था। स्वास्थ्य मंत्री ने तब पूछा था कि आखिरकार दीवार के पीछे क्या छिपाकर रखा गया था, जिसे निकालना जरूरी था। साथ ही उन्होंने निर्माण में अखिलेश द्वारा लगाए गए पैसे को लेकर भी सवाल उठाया था कि उनके पास इतनी रकम कहां से आई।

  • Tags: Akhilesh Yadav, Sidharth Nath Singh,