ताज़ा खबर
 
  • राजस्थान

    Cong+ 95
    BJP+ 81
    RLM+ 0
    OTH+ 23
  • मध्य प्रदेश

    Cong+ 107
    BJP+ 110
    BSP+ 7
    OTH+ 6
  • छत्तीसगढ़

    Cong+ 64
    BJP+ 18
    JCC+ 8
    OTH+ 0
  • तेलांगना

    TRS-AIMIM+ 89
    TDP-Cong+ 22
    BJP+ 2
    OTH+ 6
  • मिजोरम

    MNF+ 29
    Cong+ 6
    BJP+ 1
    OTH+ 4

* Total Tally Reflects Leads + Wins

बुलंदशहर: इंस्पेक्टर की हत्या में सेना का जवान गिरफ्तार, मां बोली- बेटा दोषी हुआ तो मार दूंगी गोली

खबरों के मुताबिक जितेंद्र को शुक्रवार को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार करने के बाद उसे उत्तर प्रदेश पुलिस के हवाले कर दिया गया है।

हिंसा में शहीद हुए इंस्पेक्टर सुबोध सिंह (फोटो सोर्स : Indian Express)

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में कथित रूप से गोमांस मिलने के बाद जमकर हिंसा हुई थी। पुलिस और स्थानीय लोगों के बीच हुई इस हिंसा में एक पुलिसकर्मी सहित दो लोगों की मौत हो गई थी। वहीं अब इस पूरे मामले में सेना के एक जवान जिसका नाम जितेंद्र कुमार बताया जा रहा है उसे उत्तरी कश्मीर के सोपोर से गिरफ्तार किए जाने की खबर सामने आई है।

खबरों के मुताबिक जितेंद्र को शुक्रवार को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार करने के बाद उसे उत्तर प्रदेश पुलिस के हवाले कर दिया गया है। हालांकि पुलिस ने ऐसी किसी भी खबर से इनकार किया है। वहीं जितेंद्र की मां का कहना है कि अगर इस हिंसा में उनका बेटा दोषी पाया गया तो वो खुद उसे गोली मार देंगी। बताया जा रहा है कि शनिवार को जितेंद्र को ट्रांजिट रिमांड पर लिया जा सकता है और उसे सेशन कोर्ट में पेश भी किया जा सकता है।

वहीं जब इस पूरे मामले पर सोपोर के डीआइजी अतुल गोयल और एसपी सोपोर जावेद इकबाल से बात की गई तो उन्होंने जितेंद्र की गिरफ्तारी की जानकारी से इनकार किया। बता दें, जितेंद्र अपनी बहन की शादी में शामिल होने के लिए 20 दिन की छुट्टी लेकर घर आया था।

जितेंद्र सोपोर में सेना की 22 राष्ट्रीय राइफल में सिपाही है। पुलिस के सूत्रों ने दावा किया है कि हिंसा के दौरान बनाए गए एक वीडियो में जितेंद्र गोली चलाता हुआ दिखाई दे रहा है। जितेंद्र की मां का कहना है कि उनके बेटे को राजनीतिक साजिश के तहत फंसाया जा रहा है। वहीं जितेंद्र की पत्नी प्रियंका ने पुलिस पर पिटाई का आरोप लगाते हुए कहा कि जिस दिन हिंसा हुई थी उस दिन वो अपने पति के साथ बाजार गई थी। बता दें, जितेंद्र चार साल पहले फौज में भर्ती हुआ है। उसका बड़ा भाई धर्मेंद्र भी फौज में है।

गौरतलब है कि तीन दिसंबर को चिंगरावठी में हुई हिंसा में पुलिस ने जितेंद्र को नामजद किया है। पुलिस इस पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है। इस घटना के बाद विपक्षी पार्टियां योगी सरकार की कानून व्यवस्था पर सवाल उठा रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App