ताज़ा खबर
 

Budget 2019: मोदी सरकार ने महिलाओं को दिए कई तोहफे, अधूरी रह गईं कई उम्मीदें

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को वित्त वर्ष 2019-20 के लिए अंतरिम बजट पेश किया। अंतरिम बजट पेश करते हुए उन्होंने महिलाओं को खास तोहफे दिए हैं।

Author Updated: February 1, 2019 7:04 PM
नई दिल्ली में शुक्रवार को 2019-20 का बजट पेश करने से पहले अंतरिम वित्त मंत्री पीयूष गोयल और अन्य। (फोटोः पीटीआई)

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को वित्त वर्ष 2019-20 के लिए अंतरिम बजट पेश किया। अंतरिम बजट पेश करते हुए उन्होंने महिलाओं को खास तोहफे दिए हैं। हालांकि इस बार के बजट से महिलाओं को काफी उम्मीदें थीं। आधी आबादी को मजबूत करने की दिशा में इसे सकारात्मक कदम माना जा रहा है। लेकिन इसके साथ ही कुछ बुनियादी चीजों को नजरंदाज भी किया गया।

ये हैं सरकार की बड़ी सौगातें :मोदी सरकार ने चुनाव से पहले जो तोहफे महिलाओं को दिए हैं उनमें सुरक्षा, उज्ज्वला योजना, मुद्रा योजना आदि भी शामिल हैं। बजट पेश करते समय केंद्रीय मंत्री गोयल ने यह भी बताया कि प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत कई कुल लाभान्वितों में करीब 73 फीसदी महिलाएं हैं।

1. अंतरिम बजट 2019-20 में महिला सुरक्षा और सशक्तिकरण मिशन के लिए 1330 करोड़ रुपए आवंटित किए गए हैं। इसमें 2018-19 के संशोधित अनुमान की अपेक्षा 174 करोड़ रुपए की बढ़ोतरी की गई है।
2. सरकार ने उज्ज्वला योजना के तहत आठ करोड़ निःशुल्क एलपीजी कनेक्शन देने का लक्ष्य निर्धारित किया है। छह करोड़ कनेक्शन दिए जा चुके हैं और बाकी कनेक्शन अगले वर्ष तक वितरित कर दिए जाएंगे।

अधूरी रह गईं ये उम्मीदेंः महिलाओं को कई तरह की सौगातें मिलीं। इसके बावजूद कुछ बुनियादी जरूरतें पूरी नहीं की गईं। इन पर एक नजर डालते हैं…
1. सरकार से सैनिटरी पैड को जीएसटी के बाहर किए जाने की उम्मीद थी, लेकिन अंतरिम बजट में इस बारे में कोई चर्चा नहीं की गई।
2. उच्च शिक्षा और रोजगार जैसे मामलों में भी महिलाओं के लिए किसी नई सुविधा का ऐलान नहीं किया गया।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories