ताज़ा खबर
 

Budget 2019: कृषि बजट में 10 सालों का सबसे बड़ा उछाल, मोदी सरकार ने 144 फीसदी बढ़ाकर दिए 1.4 लाख करोड़

Budget 2019 Highlights in Hindi: किसानों की समस्याओं का मुद्दा गर्म होने का असर बजट पर देखने को मिला है। इस बार पिछले बजट की तुलना में 144 फीसदी का इजाफा किया गया है।

प्रतीकात्मक तस्वीर (फोटो सोर्स : Indian Express)

Union Budget 2019-20 India: लोकसभा चुनाव से पहले पेश हुए अंतरिम बजट में मोदी सरकार ने किसानों को बड़ी राहत देने की कोशिश की है। केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल द्वारा पेश कि गए बजट में पिछले बजट के मुकाबले कृषि के लिए करीब-करीब ढाई गुना पैसा जारी किया गया है। इस बार कृषि के लिए 1,40,763 करोड़ रुपए रखे गए हैं। पिछले 10 सालों से तुलना की जाए तो यह अब तक का सबसे बड़ा उछाल है। हाल ही में तीन अहम राज्य गंवाने के बाद भारतीय जनता पार्टी को लोकसभा चुनाव में इसका फायदा मिल सकता है।

वित्त वर्ष बजट (करोड़ रुपए) बढ़ोतरी (फीसदी)
2009-10 18,373 (अंतरिम)
2010-11 23,865 29.9
2011-12 29,045 21.7
2012-13 33,931 16.8
2013-14 35,773 5.4
2014-15 37,063 (अंतरिम) 3.3
2015-16 37,910 2.3
2016-17 44,486 17.3
2017-18 51,026 14.7
2018-19 57,600 12.8
2019-20 1,40,763 (अंतरिम) 144

*स्रोतः आंकड़े ऑल इंडिया रेडियो के ट्विटर हैंडल से लिए गए हैं।

कहां खर्च होंगे पैसेः बजट में ‘प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम-किसान) योजना’ के तहत दो हेक्टेयर तक की कृषि भूमि वाले किसानों को छह हजार रुपए प्रति वर्ष की दर से सीधी मदद दी जाएगी। यह सहायता दो हजार रुपए की तीन समान किश्तों में लाभान्वित किसानों के बैंक खातों में सीधे ही हस्तांतरित कर दी जाएगी। इस योजना से करीब 12 करोड़ किसानों को फायदा होगा। इस कार्यक्रम पर 75 हजार करोड़ रुपए का वार्षिक खर्च आएगा। इसके अतिरिक्त लोन का समय पर भुगतान करने पर तीन फीसदी की अतिरिक्त छूट देने का भी ऐलान किया जाएगा। इसके अतिरिक्त पुरानी योजनाओं पर भी पैसे खर्च होंगे।

कृषि बजट में इतना उछाल क्यों?: किसानों की दुर्दशा का देश में लंबे समय से बड़ा मुद्दा रही है। पिछले कुछ समय में किसान आंदोलन और किसानों की सिलसिलेवार खुदकुशी के चलते भी सरकार पर लगातार सवाल उठ रहे थे। हाल ही में मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस को मिली जीत में किसानों की कर्जमाफी के ऐलान को बड़ा फैक्टर माना जा रहा था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App