ताज़ा खबर
 

Budget 2019: मोदी से पहले केसीआर सरकार तेलंगाना में देती है किसानों को कैश, जानें क्या है पूरी योजना

Excerpt: Budget 2019 Highlights in Hindi: किसानों को आर्थिक मदद देने वाली मोदी सरकार की योजना काफी हद तक तेलंगाना में पिछले वित्त वर्ष में घोषित की गई स्कीम जैसी ही है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी।

Union Budget 2019-20 India: लोकसभा चुनाव से पहले पेश हुए अंतरिम बजट में मोदी सरकार ने किसानों के लिए कई नई सुविधाओं का ऐलान किया। केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने बजट पेश करते हुए किसानों को छह हजार रुपए सालाना देने का ऐलान किया। इस योजना को तेलंगाना में चल रही केसीआर राव सरकार की ‘रायथू बंधु’ और ओडिशा में चल रही ‘कलिया’ योजनाओं की कॉपी बताया जा रहा है। एक नजर डालते हैं किसानों के लिए हुए ऐलान और रायथू बंधु पर…

ये है मोदी सरकार की योजनाः मोदी सरकार के बजट में दो हेक्टेयर तक की जमीन वाले किसानों को सालाना छह हजार तक मदद करने का ऐलान किया है। इस योजना में करीब 75 हजार करोड़ रुपए का खर्च आने का अनुमान है। इस योजना को ‘प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि’ नाम दिया गया है। यह खर्च पूरी तरह से केंद्र सरकार वहन करेगी। पीयूष गोयल के मुताबिक करीब 12 करोड़ किसान परिवारों को इसका फायदा होगा। इसे 10 दिनों में कर्जमाफी के ऐलान पर कांग्रेस की तीन राज्यों में जीत सुनिश्चित करने की रणनीति का जवाब माना जा रहा है। इनके अतिरिक्त प्राकृतिक आपदाओं के दौरान राहत राशि में दो फीसदी छूट दी गई। वहीं समय से लोन चुकाने पर तीन फीसदी की अतिरिक्त छूट भी मिलेगी।

क्या है तेलंगाना की रायथू बंधु योजनाः तेलंगाना सरकार ने पिछले वित्त वर्ष में किसानों की मदद के लिए 12 हजार करोड़ रुपए की लागत वाली यह योजना शुरू की थी। इस योजना के तहत किसानों की शुरुआती लागत का ध्यान रखने, किसानों को कर्ज के जाल से बचाने और कर्ज बोझ से मुक्त करने के प्रावधान किए गए थे। वहां की सरकार ने किसानों को चार हजार रुपए प्रति एकड़ का अनुदान देने का ऐलान किया था। इसका मकसद उन्हें बीज, फर्टिलाइजर्स, कीटनाशक आदि खरीदने और मजदूरी देने में मदद करना था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App