ताज़ा खबर
 

नटवर सिंह के बेटे जगत सिंह के बिगड़े बोल- आ जाओ मोदीजी, वसुंधराजी और अशोकजी, सबको पेटी पैक करके भेजूंगा

राजस्थान की रामगढ़ सीट से बीएसपी प्रत्याशी और नटवर सिंह के बेटे जगत सिंह ने चुनाव प्रचार के दौरान विवादास्पद बयान दिया है। उन्होंने एक सम्मेलन में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि मैं पत्थर का जवाब AK-47 से देता हूं। इस दौरान उन्होंने पीएम मोदी, सीएम अशोक गहलोत और वसुंधरा राजे पर भी अभद्र टिप्पणी की।

Author Updated: January 12, 2019 9:41 AM
अलवर की रामगढ़ सीट से बीएसपी प्रत्याशी जगत सिंह। फोटो सोर्स : इंडियन एक्सप्रेस

राजस्थान की रामगढ़ सीट से बीएसपी प्रत्याशी और नटवर सिंह के बेटे जगत सिंह ने चुनाव प्रचार के दौरान विवादास्पद बयान दिया है। उन्होंने एक सम्मेलन में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि मैं पत्थर का जवाब AK-47 से देता हूं। इस दौरान उन्होंने पीएम मोदी, सीएम अशोक गहलोत और वसुंधरा राजे पर भी अभद्र टिप्पणी की।

यह कहा जगत सिंह ने : जगत सिंह ने कार्यकर्ता सम्मेलन के दौरान कहा, ‘‘मैं पीछे नहीं हटूंगा भाइयों। गोली चलेगी तो पहली गोली मेरे सीने में लगेगी। पत्थर का जवाब AK-47 के साथ करता हूं मैं। तो आ जाओ अशोक जी, आ जाओ मोदी जी और आ जाओ वसुंधरा जी। सबको पेटी पैक करके भेजूंगा। जगत सिंह का यह बयान सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। हालांकि इस संबंध में पार्टी और उन्होंने फिलहाल कोई टिप्पणी नहीं की है।

27 जनवरी को होंगे रामगढ़ सीट पर चुनाव : बता दें कि बीएसपी प्रत्याशी लक्ष्मण सिंह के निधन के बाद राजस्थान के अलवर जिले की रामगढ़ सीट पर विधानसभा चुनाव रद्द कर दिया गया था। इसके बाद चुनाव आयोग ने इस सीट पर उपचुनाव की तारीख 27 जनवरी घोषित की। नियम के तहत बीएसपी के अलावा अन्य पार्टियां अपने प्रत्याशी नहीं बदल सकती हैं। ऐसे में बीएसपी ने नटवर सिंह के बेटे जगत सिंह को मैदान में उतारा।

BJP का दामन छोड़ BSP में आए हैं जगत : जानकारी के मुताबिक, जगत सिंह पहले बीजेपी में शामिल थे और कामां सीट से विधायक भी रह चुके हैं। माना जा रहा है कि जगत सिंह के बागी होने से बीजेपी को नुकसान उठाना पड़ सकता है। बता दें कि 2007 में भी जगत ने बीएसपी का दामन थाम लिया था, लेकिन कुछ समय बाद ही बीजेपी में लौट गए थे। जगत सिंह ने 9 जनवरी को नामांकन दाखिल किया और 10 जनवरी से चुनाव प्रचार शुरू कर दिया।

रामगढ़ से ही चुनाव लड़ना चाहते थे जगत सिंह : सूत्रों के मुताबिक, जगत सिंह ने 2013 और 2018 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी से रामगढ़ का टिकट मांगा था, जो उन्हें नहीं मिला। इस वजह से उन्होंने बीएसपी का दामन थाम लिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 MP : गूगल पर कमलनाथ तो ट्विटर पर शिवराज ढूंढे जा रहे सबसे ज्यादा, दोनों के बारे में यह बात जानना चाहते हैं लोग
2 अमित शाह ने BJP को चेताया, कहा- पानीपत की लड़ाई जैसे हैं लोकसभा चुनाव, हारे तो करनी पड़ेगी गुलामी
3 श्रद्धालुओं के लिए वैष्णो देवी की सौगात, इस दिन खुलेंगे प्राचीन गुफा के कपाट