लखीमपुर मामले पर BSP सुप्रीमो मायावती बोलीं- SC की सुनवाई से न्याय की उम्मीद जगी, कहा- भाजपा सरकार का रवैया ज्यादातर पक्षपाती

बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने गुरुवार को कहा कि लखीमपुर खीरी मामले की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में शुरू होने से लोगों में राहत और न्याय की उम्मीद जगी है।

Mayawati Yogi Adityanath
बीएसपी प्रमुख मायावती (बाएं), मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (दाएं)। Photo Source- Indian Express

बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने गुरुवार को कहा कि लखीमपुर खीरी मामले की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में शुरू होने से लोगों में राहत और न्याय की उम्मीद जगी है। मायावती ने ट्वीट किया, ”लखीमपुर खीरी जघन्य कांड, जिसमें चार आन्दोलित किसानों व पत्रकार सहित आठ लोगों की मौत हुई है, के संबंध में माननीय उच्चतम न्यायालय द्वारा आज प्रारंभ की गई सुनवाई से लोगों को राहत व समुचित न्याय की उम्मीद जगी, क्योंकि इस मामले में भी भाजपा सरकार का रवैया ज्यादातर पक्षपाती ही लगता है।”

उन्होंने कहा, हालांकि बसपा का प्रतिनिधिमण्डल सरकारी अनुमति के बाद पार्टी महासचिव व राज्यसभा सदस्य सतीश चन्द्र मिश्रा के नेतृत्व में पीड़ित परिवारों से आज मिल रहा है, किन्तु इस काण्ड में केन्द्रीय मंत्री व कुछ अन्य प्रभावशाली लोगों के शामिल होने के कारण लोगों का आक्रोश भी थम नहीं पा रहा है।

गौरतलब है कि लखीमपुर खीरी जिले के तिकोनिया क्षेत्र में रविवार को उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य द्वारा केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के पैतृक गांव के दौरे के विरोध को लेकर भड़की हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी। इस मामले में मिश्रा के बेटे आशीष समेत कई लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

इसकी जांच के लिये उत्तर प्रदेश सरकार ने आज एक सदस्यीय न्यायिक आयोग का गठन किया है जिसकी कमान इलाहाबाद उच्च न्यायालय के (सेवानिवृत्त) न्यायाधीश प्रदीप कुमार श्रीवास्तव को सौंपी गयी है।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट