ताज़ा खबर
 

आंबेडकर की जन्मस्थली महू में युवा संसाधन केंद्र खुलेगा

एनवायकेएस उपाध्यक्ष ने कहा, ‘देश की एकता और अखंडता को बचाए रखने में आंबेडकर के विचारों की बड़ी भूमिका है।

Author इंदौर | Published on: April 13, 2016 11:57 PM
डॉ. अंबेडकर (फाइल फोटो)

खेल और युवा मामलों के केंद्रीय मंत्रालय से संबद्ध नेहरू युवा केंद्र संगठन (एनवायकेएस) ने बुधवार को कहा कि वह डॉ. बीआर आंबेडकर की नजदीकी जन्मस्थली महू में युवा संसाधन केंद्र खोलेगा, ताकि संविधान निर्माता के विचारों को नौजवान पीढ़ी तक पहुंचाया जा सके। एनवायकेएस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने आंबेडकर की 125वीं जयंती की पूर्व संध्या पर यहां संवाददाताओं को बताया कि इस केंद्र की स्थापना पर सरकार ने सैद्धांतिक सहमति जता दी है और इसे जल्द ही अंतिम मंजूरी मिलने की उम्मीद है। एनवायकेएस उपाध्यक्ष ने कहा, ‘देश की एकता और अखंडता को बचाए रखने में आंबेडकर के विचारों की बड़ी भूमिका है। इसलिए हम चाहते हैं कि उनके विचार ज्यादा से ज्यादा नौजवानों तक पहुंचे। हमने आंबेडकर के विचारों के प्रसार के लिए 100 युवा क्लबों का गठन भी किया है।’

शर्मा ने यह भी बताया कि एनवायकेएस आंबेडकर की जन्मस्थली महू से 21 अप्रैल को ‘सामाजिक समरसता जल यात्रा’ निकालेगा, जो इसी दिन उज्जैन पहुंचेगी। इस यात्रा में शामिल होने वाले कार्यकर्ता मध्य प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों से लाए जल को उज्जैन में सिंहस्थ मेले की शुरुआत से पहले क्षिप्रा नदी में प्रवाहित करेंगे। यह मेला 22 अप्रैल से शुरू होना है। उन्होंने सवाल पर कहा, ‘दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में देश विरोधी नारेबाजी की घटना के बाद नौजवान समझ चुके हैं कि कन्हैया कुमार जैसे छात्र नेताओं की हकीकत क्या है। नतीजतन ऐसे नेताओं के खिलाफ नौजवान अपनी प्रेरणा से उठ खड़े हो रहे हैं।’

मप्र में 37 दिन अधिक चलाया जाएगा केंद्र का अभियान- संविधान निर्माता डॉ. बाबा साहेब आंबेडकर की जन्मस्थली महू से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा गुरुवार (14 अप्रैल) से शुरू किए जाने वाले देशव्यापी ‘ग्राम उदय से भारत उदय’ अभियान का मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राज्य में 37 दिन का विस्तार किए जाने की घोषणा की। चौहान ने बुधवार को को बताया, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार (14 अप्रैल) को बीआर आंबेडकर की 125 वीं जयंती पर आंबेडकर नगर (महू जिला इंदौर) से देशव्यापी ग्राम उदय से भारत उदय अभियान की शुरुआत करने वाले हैं। मध्यप्रदेश सरकार ने राज्य में इस अभियान की अवधि 37 दिन बढ़ाने का निर्णय लिया है।’

उन्होंने कहा, ‘केंद्र सरकार देश में इस अभियान को 14 अप्रैल से 24 अप्रैल तक 11 तक चलाएगी जबकि मध्यप्रदेश सरकार इसमें ग्रामीणों के उत्थान की कुछ और योजनाओं को शामिल कर 31 मई तक चलाएगी।’ मुख्यमंत्री ने कहा, ‘प्रदेश के गांव के लोगों को इस अभियान से सीधा जोड़ने के लिए इस अभियान का एक ध्वज और गान तैयार किया गया है।’ संवाददाताओं के आग्रह पर चौहान ने इस गान की कुछ पंक्तियां भी गाकर सुनार्इं।

उन्होंने कहा कि इस अभियान के दौरान प्रदेश की ग्रामीण आबादी विशेषकर किसानों के उत्थान के लिए कुछ विशेष योजनाएं तैयार की गई हैं। उन्होंने कहा कि फरवरी में सीहोर जिले में किसान रैली में प्रधानमंत्री मोदी द्वारा व्यक्त इच्छा के मुताबिक हम अगले पांच बरसों में किसानों की आय दुगनी करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि अभियान के दौरान अन्य बातों के साथ-साथ गांवों में सामाजिक एकता और समरसता को बढ़ाने के लिये गांवस्तर पर बैठकें और कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories