ताज़ा खबर
 

विधवा भाभी से जबरन कराई शादी तो 15 साल के लड़के ने लगा ली फांसी

शादी के लिए घर और गांव वालों ने नौवीं कक्षा के छात्र पर दबाव बनाया था। शादी के दो घंटे बाद ही वह लापता हो गया और कुछ देर बाद उसका शव तौलिया के फंदे में लटका मिला।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

बिहार के गया जिले में 15 साल के एक लड़के ने जबरन शादी कराए जाने पर खुदकुशी कर ली। घर और गांव वालों ने विधवा भाभी से उसकी शादी कराई थी, जो उम्र में 10 साल उससे बड़ी है। महिला के दो बच्चे भी हैं। सोमवार को विनोबा नगर में नौवीं कक्षा के छात्र की उसकी विधवा भाभी से शादी हुई। पुलिस ने बताया कि महादेव दास परैया के सरकारी स्कूल में नौवीं कक्षा में पढ़ता था। उसके बड़े भाई संतोष दास की मौत हो चुकी है। यही वजह है कि घर वालों ने 25 साल की रूबी देवी से उसकी शादी करा दी थी। शादी समारोह में भारी संख्या में रिश्तेदार और गांव के लोग शरीक हुए। शादी की रस्में निपटने के बाद तकरीबन पांच बजे वह घर से कहीं चला गया और सात बजे उसने खुद को एक तौलिए से फंदा लगा लिया।

महादेव के पिता चंद्रेश्वर दास ने कहा कि वह उस महिला से शादी करने के बाद नाखुश था, जो उसका ख्याल अपने बच्चे की तरह रखती थी। शारीरिक रूप से अक्षम चंद्रेशवर के मुताबिक, बड़े बेटे की मौत के बाद उन्हें बतौर 80 हजार रुपए मुआवजे के रूप में मिले थे। वह गया में एक निजी कंपनी इलेक्ट्रीशियन था।

पीड़ित पिता का कहना है कि बहू और उसके परिजन यही पैसे अपने खाते में ट्रांसफर करने के लिए लगातार दबाव बना रहे थे। उन्होंने इस बाबत उन्हें 27 हजार रुपए दिए भी। फिर भी वे बची हुई रकम के लिए दबाव बनाते रहे। वे कहते कि पैसे दो या फिर छोटे बेटे से रूबी की शादी करो।

बाल विवाह की सूचना पर बुधवार सुबह को पुलिस मौके पर पहुंची। हालांकि, परैया पुलिस ने मंगलवार को इस बाबत अप्राकृतिक मौत का मामला दर्ज किया था। लेकिन बुधवार को दोबारा से एफआईआर दर्ज की। शादी में शरीक हुए नौ लोग मामले में आरोपी बताए गए हैं।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App