ताज़ा खबर
 

Mumbai: पेड़ कटाई पर बवाल का विरोध, लाठीचार्ज और गिरफ्तारियों के बाद बोले उद्धव ठाकरे- सरकार बन जाए फिर निपटेंगे पेड़ों के हत्यारों से

शुक्रवार देर रात तक करीब 300 पेड़ काटे जा चुके थे। आधी रात से पुलिस के सख्त पहरे के बावजूद लोगों का प्रदर्शन जारी है। भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज भी किया। प्रदर्शन करने वालों में ज्यादातर इलाके के आदिवासी बताए जा रहे हैं।

Trees Cut Aarey Mumbaiपेड़ों की कटाई को लेकर विरोध में उतरे लोग (फोटो- इंडियन एक्सप्रेस)

बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay High Court) की तरफ से बीएमसी को पेड़ काटने की अनुमति देने के बाद शुक्रवार (4 अक्टूबर) की रात से मुंबई में बवाल मचा हुआ है। मुंबई मेट्रो (Mumbai Metro Rail) के लिए गोरेगांव में आरे इलाके में ढाई हजार से ज्यादा पेड़ काटे जा रहे हैं। इसे लेकर सैकड़ों लोग सड़कों पर उतर आए हैं। इस मामले अब तक करीब कई दर्जन लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है, वहीं चुनावी माहौल में अब सियासी बयानबाजियां भी शुरू हो गई हैं। पुलिस ने कानून-व्यवस्था के मद्देनजर इलाके में धारा 144 (CrPC Section 144) लगा दी है।

पुलिस ने किया लाठीचार्जः शुक्रवार देर रात तक करीब 300 पेड़ काटे जा चुके थे। आधी रात से पुलिस के सख्त पहरे के बावजूद लोगों का प्रदर्शन जारी है। भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज भी किया। प्रदर्शन करने वालों में ज्यादातर इलाके के आदिवासी बताए जा रहे हैं, जिनमें लड़कियां और महिलाएं भी शामिल हैं। प्रदर्शनकारियों का आरोप है कि उन्हें पुलिस ने पीटा और कपड़े भी फाड़ दिए। पुलिस लोगों को घटनास्थल पर जाने से रोक रही है, वहीं लोगों की तादाद बढ़ती जा रही है। लोग ‘हम होंगे कामयाब’ गा रहे हैं।

उद्धव बोले- पेड़ों के हत्यारों से निपटेंगेः शिवसेना चीफ उद्धव ठाकरे ने बयान देते हुए कहा कि आगामी सरकार हमारी होगी और एक बार हमारी पार्टी सत्ता में आई तो हम आरे में पेड़ों की हत्या करने वालों से अच्छे तरीके से निपटेंगे।

National Hindi News, 5 October Top Breaking 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की तमाम अहम खबरों के लिए क्लिक करें

 

आदित्य ठाकरे ने ली चुटकी: शिवसेना के यूथ विंग प्रेसिडेंट और वर्ली विधानसभा सीट से प्रत्याशी आदित्य ठाकरे ने पेड़ काटे जाने को लेकर मुंबई मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड पर नादानों की तरह पेड़ काट रही है। वहीं उन्होंने यह भी कहा कि पेड़ बचाने वालों के साथ पुलिस अपराधियों की तरह व्यवहार कर रही है। उन्होंने पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाते हुए केंद्र सरकार में अलग से जलवायु परिवर्तन मंत्रालय होने पर भी चुटकी ली। वहीं कांग्रेस के पूर्व राज्यसभा सांसद संजय निरुपम ने इसे मुंबई के लिए सबसे दुखद दिन करार दिया।

उधर आम आदमी पार्टी की प्रीती मेमन शर्मा ने इसे आचार संहिता का उल्लंघन करार दिया। उन्होंने सीएम देवेंद्र फडणवीस पर सत्ता के नशे और लालच में पागल होने का आरोप लगाया। साथ ही विपक्षी दलों को भी निशाने पर लिया। शिवसेना पर उन्होंने खुद को बेच देने का आरोप लगाया।

Next Stories
1 दुर्गा पूजा पर अच्छी पहलः प्लास्टिक-थर्मोकॉल की प्लेट में नहीं मिलेगा प्रसाद, पत्तों से बनीं पत्तल का हो रहा उपयोग
2 जमीन की जंग में भड़के बेरहम पोते ने किया डबल मर्डर, कुल्हाड़ी लेकर दादा-दादी को काट डाला
3 अखिलेश से हाथ मिलाने पर बोले शिवपाल- कोई चांस नहीं, सपा से मिलन की बातें सिर्फ अफवाह
ये पढ़ा क्या?
X