ताज़ा खबर
 

मोरनी रोड पर कार में मृत मिला पंचकूला का 19 साल का छात्र

स्थानीय एसडी कॉलेज का बीकॉम छात्र तनिष्क गुरुवार को बड़ेवाला-मोरनी रोड पर संदिग्ध हालात में मृत पड़ा मिला। उसके सिर में बेहद नजदीक से गोली मारी गई।

Author पंचकूला | Published on: November 10, 2017 12:38 AM
स्थानीय एसडी कॉलेज का बीकॉम छात्र तनिष्क गुरुवार को बड़ेवाला-मोरनी रोड पर संदिग्ध हालात में मृत मिले

स्थानीय एसडी कॉलेज का बीकॉम छात्र तनिष्क गुरुवार को बड़ेवाला-मोरनी रोड पर संदिग्ध हालात में मृत पड़ा मिला। उसके सिर में बेहद नजदीक से गोली मारी गई। उसका शव ग्रे रंग की करोला कार में पड़ा पाया गया था। पुलिस ने बताया कि पीड़ित की पहचान तनिष्क भसीन के रूप में की गई है जो सेक्टर-4 का रहने वाला था और वकील सुनील भसीन का बेटा है। सुनील भसीन पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट में प्रैक्टिस करते हैं। मौकाए-वारदात से पुलिस ने .32 बोर की पिस्तौल जब्त की है जो मृतक के दाएं हाथ में थी। उसकी कार भी लॉक थी। इसके अलावा पीड़ित की कार में से जब्त एक बैग में किताबें, कॉपियां, सिगरेट का पैकेट और तेजधार उस्तरा भी पड़ा मिला। कार से मृतक का मोबाइल फोन भी मिला है। मौके से गोलियों के दो खाली खोल भी जब्त किए गए हैं।

हालांकि, पुलिस ने इस वारदात के पीछे किसी साजिश की संभावना से इनकार किया है। पर डीएसपी नूपुर बिश्नोई का कहना है कि इसमें जांच-पड़ताल, ब्लू व्हेल समेत सभी पहलुओं से की जा रही है। उन्होंने कहा, शुरुआती जांच-पड़ताल के मुताबिक, हमें मौके के नजदीक किसी भी संदिग्ध की गतिविधि के साक्ष्य नहीं मिले। मौके से गोलियों के दो खाली खोल जरूर बरामद किए गए। सूत्रों का कहना है कि फॉरेंसिक टीम की मौकाए-वारदात पर की गई जांच में पाया गया कि पीड़ित ने पहले एक गोली हवा में चलाई और फिर दूसरी गोली अपने सिर में मार ली होगी। तनिष्क अपने माता-पिता का इकलौता बेटा था और दो बहनों में सबसे छोटा था।

मृतक की माता स्वाति भसीन अपनी बड़ी बेटी प्रियंका के साथ स्विट्जरलैंड में हैं। तनिष्क बुधवार सुबह करीब 7:30 बाकी पेज 8 पर बजे घर से निकला था और गुरुवार सुबह करीब 9.30 बजे वह मोरनी रोड पर अपनी कार में मृत पाया गया। सुनील भसीन ने किसी से दुश्मनी से इनकार करते हुए कहा कि उनका बेटा पढ़ाई-लिखाई में बेहद होनहार था और अपने कॉलेज में बीकॉम प्रथम वर्ष की परीक्षा में प्रथम आया था। वह बेहद शर्मीले स्वभाव का लड़का था और उसका कभी किसी से कोई लड़ाई-झगड़ा भी नहीं हुआ।

उन्होंने कहा, मेरा बेटा आमतौर पर रात में बाहर निकलता था, पर कल घर नहीं लौटा तो आज सुबह मैंने सोचा कि कहीं गया होगा। लेकिन सुबह पंचकूला पुलिस की ओर से मुझे उसकी मौत की सूचना मिली। तनिष्क का शव पंचकूला सेक्टर-6 स्थित सिविल अस्पताल के शवगृह में रखवा दिया गया है। उसका पोस्टमार्टम शुक्रवार को किया जाएगा। पुलिस ने इस प्रकरण में मामला दर्ज कर लिया है। पंचकूला के डीसीपी मनबीर सिंह ने बताया, कार में से जब्त की गई .32 बोर की पिस्तौल एक बेहद आलातरीन हथियार है। यह पीड़ित को कैसे मिला, इसकी जांच पुलिस करा रही है। फॉरेंसिक विशेषज्ञ ने इसकी जांच की है और उनका कहना है कि यह देसी हथियार नहीं। हम इस बेहद संगीन वारदात के संदर्भ में तनिष्क के दोस्तों और परिजनों से भी बात कर रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 देश के पहले 101 साल के मतदाता श्याम लाल नेगी के लिए बिछा लाल गलीचा
2 बस में सवार युवती से की दोस्ती, पिलाई नशीली कोल्ड ड्रिंक, दोस्त के साथ मिलकर किया रातभर गैंगरेप
3 केरल: सौर घोटाले में पूर्व सीएम ओमन चांडी दोषी करार, जांच आयोग ने सुनाया फरमान