ताज़ा खबर
 

तालाब में नाव पलटने से पांच युवकों की डूबकर मौत

शहर के छोटे तालाब में रविवार रात नाव में पार्टी आयोजन के दौरान नाव के असंतुलित होकर पलट जाने से पांच युवकों की डूबकर मौत हो गई जबकि पांच युवक तैरकर अपनी जान बचाने में सफल रहे।

Author नई दिल्ली | March 22, 2016 2:07 AM

शहर के छोटे तालाब में रविवार रात नाव में पार्टी आयोजन के दौरान नाव के असंतुलित होकर पलट जाने से पांच युवकों की डूबकर मौत हो गई जबकि पांच युवक तैरकर अपनी जान बचाने में सफल रहे। पुलिस अधीक्षक (भोपाल उत्तर) अरविंद सक्सेना ने बताया कि शुरुआती जांच के मुताबिक छोटे तालाब में रविवार रात नाव में पार्टी आयोजन के दौरान एक युवक नाचने लगा। इससे नाव असंतुलित होकर पलट गई। हादसे के समय नाव में कुल 10 युवक सवार थे। इनमें से पांच की डूबने से मौत हो गई जबकि पांच तैरकर किनारे लग गए। उन्होंने बताया कि मृतकों का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है।

एसपी ने बताया कि छोटे तालाब के कमलापति घाट पर मोनू बाथम ने एक मछुआरे की नाव खोल ली और अपने दोस्तों को नाव में बैठाकर उसे गहरे पानी के बीच ले गया। नाव में सभी दोस्त पार्टी कर रहे थे। तभी एक युवक नाव में नाचने लगा। इससे पहले कि नाव में सवार लोग संभल पाते, नाव असंतुलित होकर पलट गई।

उन्होंने बताया कि मृतकों की पहचान विशाल मीणा (21), अमित मालवीय (20), राज गायकवाड़ (20), अजय अहिरवार (21) और शुभम मीणा (20) के रूप में हुई है। उन्होंने बताया कि नाव पलटने के बाद मोनू, मनीष, आरिफ, आकाश और शुभम थापा तैरकर अपनी जान बचाने में सफल रहे। एसपी ने बताया कि पुलिस मामला दर्ज कर विस्तृत जांच कर रही है।

इस बीच, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल के छोटे तालाब में नाव पलटने से पांच नौजवानों की मौत की घटना पर दुख जताते हुए कहा कि यह हृदय विदारक दुर्घटना है। इससे मन में हुई पीड़ा को शब्दों में बयां करना आसान नहीं है। उन्होंने ट्विटर पर कहा कि सर्वशक्तिमान ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि वे शोक-संतप्त परिवारों को यह दुख सहन करने की सामर्थ्य दें। पीड़ा के इन क्षणों में हम उनके साथ हैं। मुख्यमंत्री ने घटना की उच्च स्तरीय जांच के साथ ही हर मृतक के परिजनों को दो-दो लाख रुपए की आर्थिक मदद देने की घोषणा की। चौहान ने कहा कि आगे से इस तरह की घटनाएं न हों, इसके लिए सख्त उपाय किए जाएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App