ताज़ा खबर
 

शत्रुघ्न सिन्हा की मौजूदगी में बीएमसी ने गिराया बंगले का अवैध निर्माण

बीएमसी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पिछले कुछ महीनों से बीएमसी को शत्रुघ्न सिन्हा के आवास ‘रामायण’ के अवैध विस्तार की कई शिकायतें मिली थीं।

Author मुंबई | January 9, 2018 2:28 PM
बीएमसी के कर्मचारी शत्रुघ्न सिंहा के घर में बने अवैध निर्माण को ढहाते हुए। (ANI PIC)

मुंबई के जुहू इलाके में भाजपा सांसद और अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा की आठ मंजिला आवासीय इमारत के अवैध विस्तार एवं निर्माण को बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने गिरा दिया है। बीएमसी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पिछले कुछ महीनों से बीएमसी को सिन्हा के आवास ‘रामायण’ के अवैध विस्तार की कई शिकायतें मिली थीं। इसके बाद उन्हें इस संबंध में नोटिस भी भेजा गया था। अधिकारी ने बताया, ‘‘सिन्हा ने हालांकि, नोटिसों का जवाब भी दिया लेकिन हमने निर्माण के प्रावधानों के अनुसार विस्तार में त्रुटि पाई और सोमवार को अवैध निर्माण को ध्वस्त कर दिया।’’

कई मुद्दों पर भाजपा की नीतियों से असहमत नहीं होने वाले बिहार से सांसद सिन्हा उस वक्त घर में ही थे जब यह कार्रवाई की गई। अधिकारी ने बताया कि अवैध निर्माण को गिराए जाने के दौरान सिन्हा ने सहयोग किया। वह अपने परिवार के साथ इसी घर में रहते हैं। गौरतलब है कि भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने आधार कार्ड की जानकारियां लीक होने पर चल रही बहस पर भी सोमवार को अपनी राय व्यक्त की थी। उन्होंने कहा था कि आधार ब्यौरे के दुरुपयोग को रेखांकित करने वाली खबर देने वाली पत्रकार को कथित सच्चाई सामने लाने के लिए परेशान किया जा रहा है और पूछा कि क्या देश के लोग किसी ‘बनाना रिपब्लिक’ में रह रहे हैं।

‘बनाना रिपब्लिक’ शब्द का इस्तेमाल ऐसे देश के लिए किया जाता है जो राजनीतिक रूप से अस्थिर है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा था, ‘‘यह कैसा न्याय है? क्या केवल प्रतिशोध की राजनीति की जा रही है? यहां तक कि समाज और देश के लिए ईमानदारी से पेश आने वाली जनता को भी परेशान किया जा रहा है।’’ सिन्हा अलग-अलग मुद्दों पर केंद्र सरकार और भाजपा नेतृत्व की आलोचना करते रहे हैं। उन्होंने घटना के सिलसिले में पत्रकार के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने को लेकर कड़ी प्रतिक्रिया देने के लिए एडिटर्स गिल्ड आॅफ इंडिया को बधाई भी दी और उम्मीद जताई कि सरकार के सच्चे अधिकारी और खासकर उच्चतम न्यायालय संज्ञान लेकर त्वरित सुधारात्मक उपाय करेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App