ताज़ा खबर
 

मांसाहारी लोगों को फ्लैट देने से मना करने वालों पर BMC सख्त, कहा-एेसे बिल्डरों की करो शिकायत

बीएमसी की इम्प्रूवमेंट कमिटी ने मंगलवार को एक बार फिर उन बिल्डरों के खिलाफ आवाज उठाने को कहा है जो फ्लैट बेचने में लोगों के बीच भेदभाव करते हैं।

India, life, Mumbai, varanasi, banaras, kolkata, kalkatta, the city which name changed, name changed, GuruGram haryana, Gurgaon GuruGram, GuruGram Gurgaon, Haryana GuruGram, gurgaon news, gurgaon latest news, Haryana, manohar lal khattar, guru dronacharya Benares to Varanasiभारत की वित्तीय राजधानी कहे जाने वाले शहर मुंबई का नाम साल 1996 में बंबई से बदलकर मुंबई किया गया था। मुंबई शब्द मुंम्बा और आई से मिला कर बनाया गया है। मुम्बा शब्द का अर्थ है मां अम्बा या मुम्बा देवी और मराठी में आई शब्द का अर्थ होता है मां। बीएमसी मुख्यालय का दृस्य।

मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने बुधवार को मुंबईवासियों से उन लोगों के खिलाफ थाने में शिकायत दर्ज कराने को कहा है जो मांस खाने वालों को फ्लैट नहीं बेचते। बीएमसी की इम्प्रूवमेंट कमिटी ने मंगलवार को एक बार फिर उन बिल्डरों के खिलाफ आवाज उठाने को कहा है जो फ्लैट बेचने में लोगों के बीच भेदभाव करते हैं। बीजेपी को छोड़कर ज्यादातर कॉरपोरेटर्स ने इस मामले में बिल्डर्स के खिलाफ एक्शन की मांग की है, जिसमें पानी रोकना, बिजली कनेक्शन काटना शामिल है। हालांकि बीएमसी अधिकारियों ने कानून एवं व्यवस्था का हवाला देते हुए एेसा करने से मना कर दिया, क्योंकि यह राज्य सरकार का काम है। बीएमसी के चीफ अजॉय मेहता ने टीओआई से कहा, यह मामला बीएमसी के तहत नहीं आया। चूंकि यह प्रोजेक्ट प्राइवेट जमीनों पर बने हैं, इसलिए निकाय संस्था का रोल सिर्फ उनके तकनीकी पहलुओं और अप्रूवल जारी करने तक ही सीमित है।

पिछले साल एमएनएस नेता और दादर के शिवाजी पार्क इलाके के पूर्व कॉरपोरेटर संदीप देशपांडे ने मांग उठाते हुए कहा था कि बीएमसी को उन लोगों को अस्वीकृति, प्रारंभिक प्रमाणपत्र (सीसी) जारी नहीं करना चाहिए, जो गैर-शाकाहारी खाने वालों को फ्लैट बेचने से इनकार करते हैं।

बता दें कि देश के सबसे अमीर नगर निगम मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) में 21 फरवरी को वोट डाले गए थे। इस नगर निगम में पिछले करीब दो दशक से बीजेपी और शिवसेना गठबंधन का कब्जा था। लेकिन इस बार दोनों पार्टी अलग अलग चुनाव में उतरी थीं। बीएमसी की 227 सीटों में शिवसेना को 84,भाजपा 81, कांग्रेस को 31, एनसीपी को 9, एमएनएस 7 और अन्य को 14 सीटें मिली हैं। बीएमसी चुनाव पर सुब्रमण्यन स्वामी ने ट्वीट करके कहा था कि शिव सेना और भाजपा को एक हो जाना चाहिए क्योंकि दोनों में हिंदूत्व के खून का रिश्ता है। सुब्रमण्यन स्वामी ने दोनों को साथ लाने के लिए काम करने की भी बात भी कही थी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 मोदी के विकास कार्यों के साथ जुड़कर अपने समाज का विकास करें मुसलमान
2 राजस्थान विधानसभा में हंगामे के बाद कांग्रेस के 12 विधायकों सहित 14 सदस्य साल भर के लिए निलंबित
3 मध्य प्रदेशः नदी में गिरा हेलीकॉप्टर, 2 ट्रेनी पायलेटों की मौत
ये पढ़ा क्या?
X