ताज़ा खबर
 

बीएमसी चुनाव 2017: बीजेपी को चित करने के लिए शिवसेना ने अंदरखाने शुरू की कांग्रेस से सौदेबाजी

गुरुवार को बीएमसी के नतीजों में किसी को पूर्ण बहुमत नहीं मिला था। शिवसेना के खाते में 84 तो बीजेपी को 82 सीटें मिली थीं।
शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे।

बीएमसी चुनावों में पूर्ण बहुमत न मिलने के बाद शिवसेना ने बीजेपी को इस रेस से बाहर करने के लिए पर्दे से पीछे से कांग्रेस से बातचीत शुरू कर दी है। शीर्ष सूत्रों से पुष्टि की है कि उद्धव ठाकरे ने कांग्रेस से समर्थन मांगा है, ताकि शहर के मेयर पद पर शिवसेना का कब्जा हो सके। सूत्रों के मुताबिक शिवसेना ने कांग्रेस को समर्थन के बदले डिप्टी मेयर का पद अॉफर किया है। अधिकारियों के मुताबिक 9 मार्च के मेयर का चुनाव होगा। महाराष्ट्र कांग्रेस के अध्यक्ष अशोक चव्हाण ने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की एक बैठक बुलाई है, जिसमें सेना के प्रोपोजल के बारे में बातचीत की जाएगी। इस बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री सुशील कुमार शिंदे, नारायण राणे, मुंबई के कांग्रेस चीफ संजय निरुपम, सांसद हुसैन दलवई और महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री नसीम खान और बालासाहेब थोराट शामिल होंगे।

वहीं कांग्रेस विधायक अब्दुल सतार ने कहा कि पार्टी शिवसेना को समर्थन देने के बारे में विचार करेगी। चूंकि बीजेपी हमारी सबसे बड़ी प्रतिद्वंदी है, इसलिए पार्टी की राज्य यूनिट आलाकमान को एक प्रोपोजल भेजेगी, जिसमें कहा जाएगा कि वह शिवसेना को सिर्फ बीएमसी ही नहीं बल्कि राज्य के बाकी बाकी निकाय चुनावों और जिला परिषद् के चुनावों में समर्थन देगी। आपको बता दें कि गुरुवार को बीएमसी के नतीजों में किसी को पूर्ण बहुमत नहीं मिला था। शिवसेना के खाते में 84 तो बीजेपी को 82 सीटें मिलीं। फिलहाल शिवसेना और बीजेपी निर्दलीय उम्मीदवारों को अपने पक्ष में करने में जुटी हैं। दोनों ही यह बात जानती हैं कि कांग्रेस के समर्थन के बिना वह 114 के जादूई आंकड़े तक नहीं पहुंच सकते। अब तक शिवसेना को दो और बीजेपी को एक निर्दलीय उम्मीदवार का समर्थन मिला है। अरुण गवली की अखिल भारतीय सेना (एबीएस) ने शिवसेना का समर्थन किया है।

हालांकि यह अॉप्शन भी है कि बीजेपी और शिवसेना अपने मतभेद भुलाकर फिर से साथ आ जाएं। लेकिन ठाकरे की पार्टी ने इसे खारिज कर दिया है। उद्धव ठाकरे ने आज कहा कि हम आज जश्न मना रहे हैं और लगातार पांचवी बार हम बीएमसी में सरकार बना रहे हैं। जब पूछा गया कि मेयर कौन बनेगा, तो उन्होंने कहा कि इस बारे में चर्चा जारी है।

बीएमसी चुनाव 2017: महाराष्ट्र में जारी है वोटिंग, MNS प्रमुख राज ठाकरे ने डाला वोट, देखें वीडियो ः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. M
    manoj
    Feb 25, 2017 at 6:33 am
    अब शिव सेना सेक्युलर हो जाएगी जो कांग्रेस को सत्ता में लाकर करप्शन में योग करेगा वह सेक्युलर है बाकी सब लोग कम्युनल हैं ? एक और जयचंद इसबार महाराष्ट्र में ? ऐसे जयचंदों से हे भारत पराजित हुआ है ? जिस कांग्रेस को सारे देश ने नकार दिया वह अब पिछले दरवाजे से सत्ता में भागीदारी की कोसिस कर रही है यही कोसिस बिहार में फिर उत्तर प्रदेश में और महाराष्ट्र में . तात्कालिक फायदे के लिया शिव सेना दीर्घकालिक नुक्सान करेगी बिनास काले विपरीत बुद्धि ?
    (0)(0)
    Reply
    1. A
      Amit patel
      Feb 25, 2017 at 5:13 am
      Jab gidal ki maut Aati hai ,use kuch samajh me nahi Aata ,oaise hi ab maharastra me shiv sena kangress ke sath mil ker ke4ne vali hai , jalte hai modi ki image dekh ker
      (0)(0)
      Reply
      1. A
        Ajay
        Feb 25, 2017 at 6:11 am
        एक और मोदी भक्त.
        (0)(0)
        Reply
        1. A
          Ajay
          Feb 25, 2017 at 6:10 am
          एक और मोदी भक्त.
          (0)(0)
          Reply
        2. S
          shafi ahmad
          Feb 25, 2017 at 6:51 pm
          मोदी किस चिड़िया का नाम हैभारत का पहला तानाशाह व्यक्ति है मोदीजितना 70 सालों में नुकसान हुआ है उतना नुकसान 3 साल में नुकसान किया है मोदी ने
          (1)(0)
          Reply
          1. S
            suresh k
            Feb 25, 2017 at 8:19 am
            उद्धव ठाकरे को कांग्रेस से मिलकर सत्ता हासिल करनी चाहिए स्वर्गीय बाल ठाकरे जी की आत्मा इनको आशीर्वाद देगी की उनका विद्वान बेटा चोर उचक्कों के साथ मिलकर मुंबई को लूटने की तैयारी कर रहा है
            (0)(0)
            Reply
            1. S
              suvash
              Feb 25, 2017 at 5:56 am
              इससे शिव सेना को ही नुकसान होने वाला hai.
              (0)(0)
              Reply
              1. Umrao Singh
                Feb 25, 2017 at 10:47 pm
                कैसे
                (0)(0)
                Reply
                1. D
                  dips
                  Feb 25, 2017 at 7:40 am
                  Ha be madar h ham modi bhakt. Kam se kam shivsainik jaise gunde ya congresi jaise desh ke dushman to nhi h
                  (0)(0)
                  Reply
                  1. Load More Comments