ताज़ा खबर
 

मणिपुर के मशहूर शिव मंदिर के पास बम धमाका

मणिपुर के मोरेह इलाके में स्थित शिव मंदिर के पास बीते बुधवार (29 मार्च) को हुए एक इम्प्रोवाइस्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (IED) धमाके से इलाके में सनसनी फैल गई।

मणिपुर का मोरेह इलाका (Source: google maps)

मणिपुर के मोरेह इलाके में स्थित शिव मंदिर के पास बीते बुधवार (29 मार्च) को हुए एक इम्प्रोवाइस्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (IED) धमाके से इलाके में सनसनी फैल गई। जिस इलाके में धमाका हुआ वह भारत-म्यांमार बॉर्डर के करीब है। हालांकि राहत की बात यह है कि इस धामाके की चपेट में आकर किसी की मौत नहीं हुई और न ही कोई घायल हुआ। पुलिस के मुताबिक इलाके का मशहूर शिव मंदिर, उत्तरपूर्व भारत का दूसरा सबसे बड़ा मंदिर माना जाता है, वहां पर धमाका बीते बुधवार सुबह लगभग 8.45 बजे हुआ। इस वारदात के बाद 11 असम राइफ्ल्स के जवानों ने इलाके कि सुरक्षा की जिम्मेदारी ले ली है। धमाके में कोई घायल नहीं हुआ लेकिन मंदिर की दीवारें, खिड़कियां और पानी के टैंकरों को काफी नुकसान पहुंचा है।

वहीं मामले को लेकर पुलिस सूत्रों ने यह भी बताया कि मंदिर के अधिकारियों ने पुष्टि की है कि किसी भी विद्रोही संगठन ने पैसे की कोई मांग नहीं की है। बता दें इससे पहले, बीते रविवार (26 मार्च) को म्यांमार की सीमा के करीब एक विस्फोट होने की सूचना मिली थी। वहीं बुधवार को दूसरा धमाका हुआ। इस दोनों ही बम धमाकों की जिम्मेदारी किसी भी भूमिगत संगठन ने अब नहीं ली है। गौरतलब है कि मोरेह इलाके में कूकी और मीतीई जनजातियों और गैर-मणिपुरी लोगों की मिलीजुली आबादी रहती है। मोरेह इलाके में 4,000 गैर मणिपुरी मतदाता हैं। वहीं जिस मंदिर के पास धमाका हुआ था उसका का उद्घाटन लगभग 18 साल पहले तमिल संगम मोरेह द्वारा किया गया था।

गौरतलब है हाल ही में मणिपुर में विधानसभा चुनाव हुए थे और उस दौरान भी एक बम धमाका हुआ था।  आखिरी चरण के मतदान खत्‍म होने के कुछ ही देर बाद राजधानी इम्‍फाल में बम धमाके की खबर आई थी। शाम के समय लगभग सवा छह बजे कस्‍तूरी पुल के पास धमाका हुआ खा जिसमें 8 लोग घायल हो गए थे।

देखें वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X