ताज़ा खबर
 

मदरसा में बम ब्लास्ट, मौलाना की मौत, कहां से आया बम- चल रही जांच

इलाके में चर्चा है कि धमाके में कुछ लोग जख्मी हुए हैं और उन्हें किसी गुप्त ठिकाने पर ले जाया गया है। इसकी जानकारी इलाके में रहने वाले उनके परिजन और घर की महिलाएं भी नहीं दे रही हैं।

बिहार के बांका स्थित मदरसे में बम ब्लास्ट से जमींदोज हुई इमारत। (फोटो- ANI)

बिहार के बांका में मंगलवार सुबह एक मदरसे में भीषण बम धमाका हुआ। बताया गया है कि विस्फोट इतना तेज था कि मदरसे की इमारत तक जमींदोज हो गई और इस घटना में मदरसे के मौलवी की भी मौत हो गई। इस ब्लास्ट को लेकर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। शुरुआत में इसकी वजह सिलेंडर विस्फोट मानी जा रही थी, लेकिन एसएफएल टीम को जांच के लिए बुलाने के बाद घटना के बम ब्लास्ट होने का शक गहरा गया है।

यह घटना जिले के टाउन थाना के नवटोलिया स्थित नूरी मस्जिद इस्लामपुर परिसर के पास मदरसे में हुई। इलाके में इस जबरदस्त विस्फोट के बाद खौफ पसर गया। धमाके का समय सुबह करीब 8 बजे के आसपास बताया जा रहा है। स्थानीय लोगों के मुताबिक, ब्लास्ट इतना ताकतवर था कि मदरसा ध्वस्त होने के साथ ही उसका एक हिस्सा सड़क के दूसरे किनारे पर गिरा। पुलिस की जांच में ये सामने आया है कि ब्लास्ट मदरसा के बगल के कमरे में हुआ था। जांच के लिए पहुंची एफएसएल की टीम ने प्रथम दृष्टया में इसके बम विस्फोट होने की पुष्टि की है।

इलाके में चर्चा है कि धमाके में कुछ लोग जख्मी हुए हैं और उन्हें किसी गुप्त ठिकाने पर ले जाया गया है। वहीं कुछ और पुरुष भी फरार बताए गए हैं, जिनकी जानकारी उनके परिवारवाले और घर की महिलाएं भी नहीं दे रही हैं। पुलिस का भी यही कहना है कि धमाका बम से हुआ है। लेकिन बम कहां से आया, कैसे फटा इसके बारे में पुलिस अभी तफ्तीश की जा रही है।

लॉकडाउन की वजह से मदरसे में नहीं थे बच्चे: पुलिस के मुताबिक, इस घटना में घायल हुए लोगों की पहचान की जा रही है, अभी लॉकडाउन चल रहा है जिसकी वजह से मदरसे में बच्चें नहीं थे, अगर बच्चे रहते तो और भी बड़ी घटना होती। मृतक मौलवी मौलाना अब्दुल मोबीन झारखंड के देवघर जिले के कालीजोत का रहने वाला था। मोबीन करीब 10 साल से नवटोलिया मदरसा में मौलवी था।

Next Stories
1 बिहार में कोरोना संक्रमित के शव से भी असंवेदनशीलता! JCB से उठाई गई लाश, जलाने के बजाय अस्पताल से दूर ले जा दफना दिया
ये पढ़ा क्या?
X