scorecardresearch

Telangana: KCR की पार्टी के विधायकों की खरीद फरोख्त के मामले में BJP के BL संतोष को समन के बाद राहत, SIT ने दिए ये निर्देश

Karnataka News: इस समन में साफ तौर पर कहा गया है कि बीजेपी नेता को आगामी 21 नवंबर से पहले पूछताछ के लिए पुलिस के सामने पेश होना होगा।

Telangana: KCR की पार्टी के विधायकों की खरीद फरोख्त के मामले में BJP के BL संतोष को समन के बाद राहत, SIT ने दिए ये निर्देश
भाजपा के वरिष्ठ नेता बीएल संतोष। (File Photo)

Summon to BJP Leader BL Santosh: तेलंगाना (Telangana) में TRS के विधायकों (MLA’s) की खरीद-फरोख्त के मामले में बीजेपी के महासचिव बीएल संतोष (BL Santosh) को समन (Summon) जारी किया गया है। मामले में जांच कर रही एसआईटी (SIT) ने पूछताछ के लिए बीजेपी नेता को समन जारी किया है। इस समन में साफ तौर पर कहा गया है कि बीजेपी नेता को आगामी 21 नवंबर से पहले पूछताछ के लिए पुलिस के सामने पेश होना होगा। पहले तो पेश नहीं होने पर उनकी गिरफ्तारी का फरमान था लेकिन बाद में एसआईटी ने उन्हें राहत देते हुए गिरफ्तार नहीं किए जाने का निर्देश दिया है।

चंद्रशेखर राव (KCR) की बेटी पर की थी आपत्तिजनक टिप्पणी

उधर, टीआरएस के कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को यहां भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद धर्मपुरी अरविंद के घर पर हमला कर दिया, जिन्होंने कथित तौर पर तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव की बेटी को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। भाजपा के सांसद ने एक वीडियो में टीआरएस की विधान पार्षद कविता के खिलाफ कथित तौर पर आपत्तिजनक बयान देते हुए सत्तारूढ़ पार्टी पर निशाना साधा था, जिसके बाद यह हमला हुआ। राज्य की राज्यपाल तमिलिसाई सुंदरराजन ने घटना पर चिंता व्यक्त की और डीजीपी से घटना के बारे में “प्राथमिकता के आधार पर” विस्तृत रिपोर्ट देने को कहा।

TRS कार्यकर्ताओं ने फूंका था BJP नेता का पुतला

राजभवन की ओर से जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में राज्यपाल के हवाले से कहा गया है, “… सांसद के आवास पर परिवार के सदस्यों और घरेलू सहायिका को धमकाया और डराया जाना बेहद निंदनीय है।” निजामाबाद लोकसभा क्षेत्र से सांसद अरविंद के आवास पर टीआरएस के झंडे और स्कार्फ पहने लोगों ने हमला किया। उन्होंने भाजपा नेता का पुतला भी फूंका, जिसके बाद पुलिस ने उन्हें तितर-बितर कर दिया। भाजपा ने घटना की निंदा करते हुए इसे सत्तारूढ़ तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) की हरकत बताया। 

BRS ने BJP पर लगाया था आरोप

इसके पहले भारत राष्ट्र समिति (BRS) के विधायकों की ओर से भी खरीद-फरोख्त के आरोप की बातें सामने आईं थीं। जिसके बाद पुलिस ने तीन आरोपियों को इस मामले में गिरफ्तार कर लिया था। बीआरएस नेताओं ने विधायकों की खरीद- फरोख्त के पीछे बीजेपी का हाथ होने का आरोप लगाया था। पुलिस के कहा था कि बीआरएस विधायक रेगा कंथाराव, गुव्वाला बलाराजू और पायलट रोहित रेड्डी ने बीरम हर्षवर्धन को काम और पैसे देने के बदले खरीदने की कोशिश की गई थी।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 18-11-2022 at 11:04:35 pm
अपडेट