ताज़ा खबर
 

गायों की मौत पर भड़के सीएम योगी आदित्यनाथ, कई अधिकारियों को किया सस्पेंड, डीएम को भी नोटिस

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ राज्य की गौशालाओं में गायों की मौत के मामले में कई सरकारी अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया। सरकार ने इस मामले की जांच के आदेश दे दिए गए हैं।

Author लखनऊ | Published on: July 15, 2019 7:50 AM
योगी सरकार की तरफ से डीएम और मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को भी नोटिस जारी किया गया है। (फाइल फोटो)

यूपी में योगी आदित्यनाथ सरकार ने राज्य भर की गौशालाओं में गायों की मौत के मामले में कई अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया है। योगी सरकार ने इस मामले की जांच के आदेश भी दे दिए हैं।

अयोध्या में मिलकीपुर ब्लॉक के उप पशु चिकित्सा अधिकारी और प्रखंड विकास अधिकारी (बीडीओ), पलियामाफी गांव के पंचायत अधिकारी और अयोध्या नगर निगम की तरफ से संचालित गोशाला के प्रभारी को सस्पेंड कर दिया है। इसके अलावा गायों की मौत के मामले में सरकार ने डीएम और मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को भी नोटिस जारी किया है।

अयोध्या जिला प्रशासन इससे पहले बैसिंगपुर में गोशाला में पांच गायों के मरने का दावा किया था। इससे पहले अयोध्या के अतिरिक्त निगमायुक्त ने बयान जारी कर कहा था, ’12 जुलाई को हमें चारे और देखभाल की कमी के कारण कई गायों के मरने की सूचना मिली थी।

विचार विमर्श के बाद हमने पाया कि पिछले दो-तीन दिन में केवल पांच गायों की मौत प्राकृतिक कारणों से हुई है। लगातार बारिश, फिसलन के कारण कई जानवर गंभीर रूप से घायल हो गए थे। हमने मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को जानवर के चारे की समुचित आपूर्ति के साथ ही उनकी देखभाल के आदेश दिए हैं।’

इसी प्रकार सरकार ने मिर्जापुर के मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ. एके सिंह, मिर्जापुर नगर निमग के कार्यकारी अधिकारी (प्रभारी) मुकेश कुमार और सिटी इंजीनियर राम जी उपाध्याय को भी सस्पेंड कर दिया है। इस संबंध में मिर्जापुर के जिला मजिस्ट्रेट को भी नोटिस जारी किया है।

सरकार ने इस मामले में विध्यांचल डिविजन के कमिश्नर की देखरेख में जांच के भी आदेश दे दिए हैं। प्रयागराज में, जहां जिला प्रशासन ने 35 गायों की मौत का दावा किया था। सरकार ने डीएम, प्रयागराज को भी मामले की जांच करने के आदेश दे दिए हैं।

इस बीच गौ सेवा आयोग के चेयरमैन श्याम नंदन सिंह ने इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में बताया कि प्रयागराज में कई गायों की मौत के मामला प्रकाश में आने के बाद जांच की गई थी। स्थानीय प्रशासन ने कहा था कि गायों की मौत बिजली गिरने के कारण हुई थी। हमें यह दावा संदिग्ध लगा था, क्योंकि इसमें कोई अन्य गाय घायल भी नहीं हुई थीं। सिंह ने कहा कि हमने इस मामले में टास्क फोर्स गठित कर उसे जल्द रिपोर्ट सौंपने को कहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Bihar News Today, 15 July 2019: बिहार में बाढ़ की स्थिति गंभीर, चार की मौत, 18 लाख लोग प्रभावित
2 गोवा-कर्नाटक की उठापटक से MP में घबराई कांग्रेस? कमल नाथ ने 11 दिन में तीसरी बार बुलाई विधायकों की बैठक
3 Maharashtra: फड़णवीस के मंत्री गिरीश महाजन ने कर दी विधानसभा चुनाव 2019 की तारीखों की भविष्यवाणी, अब नहीं उठा रहे फोन