ताज़ा खबर
 

मध्‍य प्रदेश: भाजपा कार्यकर्ताओं पर युवती से दुष्‍कर्म का आरोप, एक हिरासत में

आष्टा थाने के प्रभारी वी.डी. वीरा ने रविवार को आईएएनएस को बताया कि युवती ने दो आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस ने धारा 376 के तहत मामला दर्ज कर राजा कलेक्टर को हिरासत में ले लिया है, जबकि मुकेश ठाकुर फरार है।

तस्वीर का प्रयोग प्रतीक के तौर पर किया गया है। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

मध्य प्रदेश के सीहोर जिले में 28 वर्षीय एक युवती से सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। आरोपियों में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यकर्ताओं के नाम आ रहे हैं। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस के अनुसार, आष्टा थाना क्षेत्र की एक युवती कौशल विकास केंद्र में काम करती थी, जिसके संचालक राजा कलेक्टर ने उसके साथ दुष्कर्म किया और बाद में उसके साथी मुकेश ठाकुर ने उसे अपनी हवस का शिकार बनाया।

आष्टा थाने के प्रभारी वी.डी. वीरा ने रविवार को आईएएनएस को बताया कि युवती ने दो आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस ने धारा 376 के तहत मामला दर्ज कर राजा कलेक्टर को हिरासत में ले लिया है, जबकि मुकेश ठाकुर फरार है। सूत्रों का कहना है कि दोनों आरोपी भाजपा के प्रभावशाली नेता से जुड़े कार्यकर्ता हैं और उन्होंने रसूख के चलते ही युवती को अपनी हवस का शिकार बनाया।

पत्रिका के मुताबिक युवती ने अपनी शिकायत में बताया कि साल 2016 में राजा ने उसे कौशल विकास केंद्र में नौकरी पर रखा था और उसके बाद उसने कई बार युवती को बहला फुसलाकर उसका रेप किया। इसके साथ ही बाद में उसने पीड़िता को अपने दोस्त मुकेश ठाकुर के साथ भी युवती को डरा धमकाकर संबंध बनाने पर विवश किया। युवती ने बताया कि ठाकुर ने करीब सात आठ बार उसका रेप किया। युवती ने बताया कि दो साल पहले वह कंप्यूटर टीचर थी। इसी दौरान उसकी मुलाकात राजा से हुई। उसने युवती को प्रधानमंत्री कौशल केंद्र में कोऑर्डिनेटर बनाया।

पीड़िता ने बताया कि राजा और ठाकुर, दोनों ने करीब 2 सालों तक उसके साथ ज्यादती की। कुछ दिनों पहले उसे इंदौर में रियल स्टेट के काम पर लगा दिया, साथ ही उसे किराए का मकान भी दिया गया। इसके बाद करीब एक हफ्ते पहले दोनों आरोपी उसके पास इंदौर आए और धमकाते हुए कहा कि उसे अब कोई खर्चा नहीं दिया जाएगा। धमकी के बाद युवती ने परेशान होकर सारी बात अपने परिवार वालों को बताई और आष्टा थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App