ताज़ा खबर
 

कांग्रेस को झटका देकर बीजेपी ने किया चंडीगढ़ निगम पर कब्जा

नौ जनवरी भाषा भारतीय जनता पार्टी ने चंडीगढ़ नगर निगम के महापौर, वरिष्ठ उप महापौर और उप महापौर के लिए आज यहां हुए मतदान में तीनों पदों पर जीत हासिल की है ।

Author चंडीगढ़ | January 10, 2018 14:56 pm
नौ जनवरी भाषा भारतीय जनता पार्टी ने चंडीगढ़ नगर निगम के महापौर, वरिष्ठ उप महापौर और उप महापौर के लिए मंगलवार को यहां हुए मतदान में तीनों पदों पर जीत हासिल की है ।

नौ जनवरी भाषा भारतीय जनता पार्टी ने चंडीगढ़ नगर निगम के महापौर, वरिष्ठ उप महापौर और उप महापौर के लिए मंगलवार को यहां हुए मतदान में तीनों पदों पर जीत हासिल की है । निर्वाचन कार्यालय के प्रवक्ता ने मतगणना के बाद यहां बताया कि 27 सदस्यीय चंडीगढ़ नगर निगम में देवेश मोदगिल महापौर के पद पर विजयी हुए हैं जबकि गुरप्रीत सिंह ढिल्लों ने वरिष्ठ उप महापौर और विनोद अग्रवाल ने उप महापौर के पद पर जीत हासिल की है । मोदगिल चंडीगढ़ नगर निगम के 22वें महापौर होंगे। मोदगिल को 22 मत मिले जबकि कांग्रेस प्रत्याशी देवेंद्र सिंह बाबला को पांच मत मिले।

ढिल्लों को कांग्रेस प्रत्याशी शीला फूल सिंह के छह मतों के मुकाबले 21 मत मिले। अग्रवाल को कांग्रेस प्रत्याशी रविंदर कौर के चार मतों के मुकाबले 22 मत मिले जबकि एक मत अमान्य घोषित कर दिया गया। चंडीगढ़ नगर निगम में भाजपा के 20, कांग्रेस के चार, शिरोमणि अकाली दल के एक उम्मीदवार हैं जबकि एक निर्दलीय और एक वोट भाजपा की मौजूदा सांसद किरण खेर का है। नौ मनोनीत पार्षद इस साल वोट नहीं कर पाए क्योंकि पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय ने अगस्त 2017 को उनके वोट देने के अधिकार पर रोक लगा दी थी।

चुनावी दौड़ में अच्छा-खासा बहुमत होने के बावजूद भाजपा को पार्टी के भीतर मतभेदों का सामना करना पड़ा जिसे कल सुलझाा लिया गया। भाजपा की बागी और निवर्तमान महापौर आशा कुमारी जायसवाल और रवि कांत शर्मा ने पहले निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर अपना नामांकन दायर किया था लेकिन कल उन्होंने अपने नाम वापस ले लिए। मोदगिल को पूर्व भाजपा सांसद सत्य पाल जैन का करीबी माना जाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App