ताज़ा खबर
 

महेश गिरि त्यागपत्र दे देंगे अगर ‘आप’ साबित कर दे कि उन्होंने जंग को लिखी थी चिट्ठी: भाजपा

भाजपा ने आरोप लगाया कि ‘आप’ की संस्थापक नेताओं में से एक संतोष कोली की 2013 में गाजियाबाद में हुई हत्या के मामले में अरविंद केजरीवाल की भूमिका संदिग्ध है’

Author नई दिल्ली | June 24, 2016 7:22 PM
दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष सतीश उपाध्याय। (फाइल फोटो)

भाजपा ने शुक्रवार (24 जून) को कहा कि पार्टी सांसद महेश गिरि त्यागपत्र दे देंगे, अगर ये साबित हो जाए कि उन्होंने एनडीएमसी अधिकारी एमएम खान के बारे में उपराज्यपाल नजीब जंग को कोई पत्र लिखा था। खान की पिछले महीने गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।
दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष सतीश उपाध्याय ने आप और मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल को गिरि द्वारा कथित तौर पर लिखा गया पत्र पेश करने की चुनौती देते हुए कहा, ‘महेश गिरि की तरफ से मैं कह रहा हूं कि अगर उन्होंने कोई चिट्ठी लिखी होगी तो वह इस्तीफा दे देंगे।’

पार्टी नेता संतोष कोली और राजस्थान के किसान गजेंद्र चौहान की मृत्यु पर केजरीवाल की ‘चुप्पी’ को लेकर उन पर हमला बोलते हुए उपाध्याय ने पिछले वर्ष अप्रैल में जंतर मंतर में केजरीवाल समेत आप नेताओं की मौजूदगी में किसान की आत्महत्या के मामले में दिल्ली पुलिस से जांच में तेजी लाने की मांग की। उन्होंने आरोप लगाया, ‘मैं ‘आप’ की संस्थापक नेताओं में से एक संतोष कोली की 2013 में गाजियाबाद में हुई हत्या के मामले में त्वरित पुलिस जांच के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को एक पत्र लिखूंगा, जिसमें केजरीवाल की भूमिका संदिग्ध है क्योंकि हो सकता है कि वह कई राज जानती हों।’

दिल्ली भाजपा ने 400 करोड़ रुपए के कथित दिल्ली जल बोर्ड टैंकर ‘घोटाले’ को लेकर कई सवाल खड़े किए और केजरीवाल की ‘गिरफ्तारी’ की मांग की। भ्रष्टाचार निरोधक शाखा इस कथित घोटाले की जांच कर रही है। भाजपा नेता ने कहा, ‘मैंने पहले केजरीवाल के इस्तीफे की मांग की थी। अब मैं टैंकर घोटाले में निष्पक्ष जांच के लिए दिल्ली पुलिस से केजरीवाल को गिरफ्तार करने की मांग करता हूं।’ पार्टी सांसद रमेश बिधूड़ी ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ता आप सरकार के गलत कार्यों को बेनकाब करने के लिए जल्द ही आंदोलन शुरू करेंगे और हस्ताक्षर अभियान चलाएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App