ताज़ा खबर
 

बात करती हैं राम का, मंदिर बनाती है नाथूराम का: बीजेपी पर ज्योतिरादित्य का जोरदार हमला

ज्योतिरादित्य ने कहा, "भाजपा चुनाव जीतने के लिए राम की बात करती है, हमेशा कहती है कि मंदिर वहीं बनाएंगे, मगर तारीख नहीं बताएंगे। राम का मंदिर तो नहीं बनाया, मगर महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे का मंदिर जरूर बना दिया।"

Author September 7, 2018 9:31 AM
कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (फाइल फोटो)

मध्यप्रदेश चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष और सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने गुरुवार (6 सितंबर) को सत्ताधारी बीजेपी पर बड़ा हमला बोला। उन्होंने कहा कि यह ऐसी पार्टी हैं जो राम मंदिर बनाने की बात करती है लेकिन मंदिर नाथूराम गोडसे का बनाती है। सिंधिया ने उमरिया जिले के मानपुर विधानसभा क्षेत्र में राज्य और केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला। स्थानीय स्टेडियम में आयोजित जनसभा में उन्होंने देश की आजादी में और आजादी के बाद खड़े किए गए विकास के बुनियादी ढांचे में कांग्रेस के योगदान का जिक्र किया। सिंधिया ने कहा, “आज देश में चाहे किसी भी क्षेत्र को ले लीजिए, जो कुछ है वह कांग्रेस का बनाया हुआ है। देश में जो भी विकास हुआ, वह कांग्रेस ने किया। भाजपा शासन के इन साढ़े चार सालों में जो कुछ हुआ, वह तो देश देख ही रहा है और पछता भी रहा है। राजीव गांधी की दूरदृष्टि और संचार क्रांति की बदौलत आज देश के हर हाथ में मोबाइल है।”

ज्योतिरादित्य ने कहा, “भाजपा चुनाव जीतने के लिए राम की बात करती है, हमेशा कहती है कि मंदिर वहीं बनाएंगे, मगर तारीख नहीं बताएंगे। राम का मंदिर तो नहीं बनाया, मगर महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे का मंदिर जरूर बना दिया।” बता दें कि हिंदू महासभा ने ग्वालियर के दौलतगंज इलाके में नाथूराम का मंदिर बनवाया है। पिछले साल 9 नवंबर को इस मंदिर में बापू के सीने को गोलियों छलनी करने वाले की आवक्ष प्रतिमा लगाई गई है। बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने 2014 में संसद की सीढ़ियों पर मीडिया के सामने खुलेआम कहा था, “नाथूराम गोडसे हमारे आदर्श हैं, पूजनीय हैं।” इसके बाद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने पत्र लिखकर स्पष्टीकरण मांगा था।

जनसभा में जिला पंचायत अध्यक्ष ज्ञानवती सिंह ने स्थानीय समस्याओं का जिक्र करते हुए कहा कि यहां से बीजेपी विधायक बीते तीन बार से जीत रही हैं लेकिन यहां की सड़कों तक को नहीं सुधार पाई हैं। राज्य की बीजेपी सरकार भी इस क्षेत्र के साथ दोयम दर्जे का व्यवहार कर रही है। सिंधिया कांग्रेस चुनाव प्रचार अभियान समिति का अध्यक्ष बनने के बाद पहली बार आदिवासी इलाके के तीन दिन के दौरे पर आए हैं। पार्टी सूत्रों के अनुसार, सिंधिया इस दौरान आदिवासियों के बीच बैठकें और वन-टू-वन चर्चा भी करने वाले हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App