scorecardresearch

Bihar: BJP ने 19 लाख नौकरियों का वादा किया था, 19 भी दिया? तेजस्वी का भाजपा को जवाब; सोनिया गांधी से की मुलाकात

डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार में भाजपा के खिलाफ सभी दल अब एक ही पक्ष में हैं। नीतीश ने सही समय पर सही फैसला लिया।

Bihar: BJP ने 19 लाख नौकरियों का वादा किया था, 19 भी दिया? तेजस्वी का भाजपा को जवाब; सोनिया गांधी से की मुलाकात
बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव। (फोटो सोर्स: ANI)

बिहार के नए उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने शुक्रवार (12 अगस्त, 2022) को दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की। इस मीटिंग को लेकर तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार में सत्ता परिवर्तन के बाद आज पहली बार हमारी घटक दलों के शीर्ष नेतृत्व से बैठक हुई है। इस दौरान उन्होंने केंद्र की भाजपा सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कहा कि भाजपा ने राज्य में 19 लाख नौकरियां देने की बात कही, क्या उन्होंने 19 नौकरियां भी दीं? इसी तरह देश में 2 करोड़ नौकरियां देने की बात करते थे।

बिहार के नए उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा कि प्रति वर्ष 2 करोड़ रोजगार देने के उनके (भाजपा) वादे को भूल जाओ … इसके बजाय, वे देश में 80 करोड़ लोगों को ‘मुफ्त राशन’ देने का दावा करते हैं। तेस्जवी ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की ‘समाजवादी परिवार’ में वापसी को भाजपा के मुंह पर तमाचा बताया। उन्होंने कहा कि क्षेत्रीय दलों को डराने या खरीदने की भाजपा की कोशिश का उद्देश्य पिछड़े वर्गों और दलितों की राजनीति को खत्म करना है, क्योंकि ज्यादातर ऐसी पार्टियां समाज के ऐसे वर्गों का प्रतिनिधित्व करती हैं।

राजद नेता ने अपने पिता लालू प्रसाद यादव के नीतीश कुमार के साथ पुराने संबंधों का भी हवाला दिया। उन्होंने कहा कि बिहार में भाजपा के खिलाफ सभी दल अब एक ही पक्ष में हैं। नीतीश ने सही समय पर सही फैसला लिया। यह अब पूरे भारत में होगा। उन्होंने नीतीश कुमार के 2024 में संभवत: विपक्ष का पीएम चेहरा होने के बारे में पूछ गए सवाल को टाल दिया। इसके बजाए उन्होंने कहा कि भाजपा के दावे का क्या हुआ। जिन्होंने साल में 2 करोड़ नौकरियां देने की बात कही थी।

बिहार में नौकरियों के अपने वादे पर उन्होंने कहा कि यह अच्छा है कि भाजपा और मीडिया आखिरकार महत्वपूर्ण मामलों के बारे में बात कर रहे हैं। हिंदू-मुस्लिम विभाजन की सांप्रदायिक राजनीति से दूर। तेजस्वी ने कहा कि यह एक उपलब्धि है कि हमने उन्हें वास्तविक मुद्दों पर बोलने के लिए मजबूर किया है। हम अपने वादे निभाएंगे। बस थोड़ा इंतजार करो।”

तेजस्वी ने कहा कि वह अपने पिता की राह पर चल रहे हैं। उन्होंने कहा कि मेरे पिता ने जीवन भर सांप्रदायिक ताकतों के खिलाफ लड़ाई लड़ी। सामाजिक न्याय और गरीबों के लिए लड़ाई लड़ी। वो न कभी हिम्मत हारे और न ही कभी झुके।

तेजस्वी यादव अपने और नीतीश कुमार के संबंधों को जिक्र करते हुए कहा, ‘हमने एक दूसरे के खिलाफ आरोप लगाए हैं, लेकिन हम एक परिवार हैं। हम सभी समाजवादी हैं’। तेजस्वी ने कहा कि जब वे (नीतीश कुमार) विधानसभा में विपरीत दिशा में थे। एक बार सदन में बहुत अराजकता पैदा हो गई। उस दौरान नीतीश जी ने मुझे अपना भाई समान दोस्त का बेटा कहा। एक और बार, उन्होंने मुझसे कहा “बाबू बैठ जाओ।’ यह एक निर्देश की तरह था, लेकिन एक आशीर्वाद की तरह प्यार भी था। मैं बैठ गया।”

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट