5 साल बाद CM बदलने की है परंपरा, विजय रुपाणी के इस्तीफे पर बोले भाजपा प्रवक्ता, कांग्रेस ने कसा तंज, कहा – आपसी लड़ाई आई सामने

विजय रूपाणी के इस्तीफा देने के बाद से ही राज्य में नए मुख्यमंत्री को लेकर कई तरह की अटकलें लगाई जा रही हैं। अब तक केंद्रीय मंत्रियों समेत कई शीर्ष भाजपा नेताओं के नाम मुख्यमंत्री पद के लिए सामने आए हैं।

शनिवार को गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत से मिलकर विजय रूपाणी ने अपना इस्तीफा सौंपा।(फोटो : CMO)

साल 2022 में होने वाले चुनाव से पहले विजय रूपाणी ने गुजरात के मुख्यमंत्री पद से अपना इस्तीफा दे दिया। शनिवार को राज्यपाल आचार्य देवव्रत से मिलकर उन्होंने अपना इस्तीफा सौंपा। विजय रूपाणी के इस्तीफे के मुद्दे पर टीवी डिबेट के दौरान भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि बीजेपी में 5 साल पर मुख्यमंत्री बदलने की परंपरा है। भाजपा प्रवक्ता के इस बयान पर डिबेट में मौजूद रहे कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि अब भाजपा की आपसी लड़ाई सामने आ चुकी है।

न्यूज 24 पर एंकर मानक गुप्ता के डिबेट शो में विजय रूपाणी के इस्तीफे को लेकर सवाल पूछे जाने पर भाजपा प्रवक्ता महेश कस्वाला ने कहा कि नेतृत्व परिवर्तन भारतीय जनता पार्टी की परंपरा रही है। साथ ही उन्होंने कहा कि बीजेपी की परंपरा रही है कि हम 5 साल में मुख्यमंत्री बदलते हैं और नए लोगों को मौका देते हैं। आगे उन्होंने कहा कि आज विजय रुपाणी ने भी खुद कहा कि भाजपा ने मुझे 5 साल के लिए जिम्मेदारी सौंपी थी जिसका मैंने निर्वहन किया। अब यहां नया नेतृत्व आएगा।

भाजपा प्रवक्ता के इस बयान पर डिबेट में मौजूद रहे कांग्रेस प्रवक्ता सुरेन्द्र राजपूत ने तंज कसते हुए  कहा कि पिछले छह महीने में भाजपा अपने चार चार मुख्यमंत्री बदल चुकी है। आज लड़ाई खुल कर सामने आ गई है। गुजरात भाजपा अध्यक्ष सीआर पाटिल और विजय रुपानी का झगड़ा साफ़ साफ़ नजर आ रहा है। प्रधानमंत्री मोदी और गृहमंत्री शाह का झगड़ा भी साफ़ नजर आ रहा है। साथ ही कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि चुनाव जीतने के लिए ये लोग जिस मशीनरी का प्रयोग करते हैं उसके बारे में सबको पता है। लेकिन सच यह है कि उसमें पूरा गुजरात पिस रहा है।

शनिवार को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद विजय रुपाणी ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि मुझे गुजरात के लिए जो कुछ करने का अवसर मिला उसके लिए मैं प्रधानमंत्री मोदी का आभारी हूं। अब नए नेतृत्व में यह यात्रा आगे बढ़नी चाहिए। यह ध्यान में रखकर मैंने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दिया है। भाजपा की परंपरा रही है कि समय के साथ कार्यकर्ताओं के दायित्व बदलते रहते हैं। अब पार्टी के द्वारा जो भी जिम्मेदारी दी जाएगी, उसका निर्वहन करूंगा।

विजय रूपाणी के इस्तीफा देने के बाद से ही राज्य में नए मुख्यमंत्री को लेकर कई तरह की अटकलें लगाई जा रही हैं। अब तक करीब पांच नाम मुख्यमंत्री पद के लिए सामने आए हैं। इनमें केंद्रीय मंत्री मनसुख मांडविया, लक्षद्वीप के प्रशासक प्रफुल्ल पटेल, केंद्रीय मंत्री पुरुषोत्तम रुपाला, डिप्टी सीएम नितिन पटेल और गुजरात भाजपा के अध्यक्ष सीआर पाटिल का नाम शामिल है।   

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट