ताज़ा खबर
 

महाराष्ट्र: बीजेपी विधायक के खिलाफ कांग्रेस-शिव सेना लामबंद, बोली- रावण हैं ‘राम कदम’

शिवसेना और विपक्षी पार्टियों ने भाजपा विधायक राम कदम के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने महिला विरोधी टिप्पणी के लिये उन्हें ‘रावण’ करार दिया।

Author September 6, 2018 1:19 PM
शिवसेना, कांग्रेस और बीजेपी के प्रतीक (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

शिवसेना और विपक्षी पार्टियों ने भाजपा विधायक राम कदम के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने महिला विरोधी टिप्पणी के लिये उन्हें ‘रावण’ करार दिया। घाटकोपर (पश्चिम) से विधायक कदम ने सोमवार की रात अपने विधानसभा क्षेत्र में एक ‘दही हांडी’ उत्सव के दौरान विवादित बयान देते हुए युवाओं से कहा था कि अगर कोई लड़की उनके (युवाओं के) प्रेम प्रस्ताव को ठुकरा भी देती है, तो वे उस लड़की को ‘‘अगवा’’ कर लेंगे। विपक्ष ने चेतावनी दी कि अगर विधायक के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं जाती तो वे विधानसभा के शीतकालीन सत्र के दौरान कोई कामकाज नहीं होने देंगे। इस टिप्पणी के बाद भाजपा और कदम लगातार आलोचना का सामना कर रहे हैं। हालांकि, विधायक अपनी टिप्पणी के लिये खेद जता चुके हैं। उन्होंने दावा किया कि उनकी टिप्पणी को तोड़-मरोड़ कर पेश किया गया। भाजपा की प्रदेश इकाई के प्रवक्ता माधव भंडारी ने कदम की टिप्पणी को तवज्जो नहीं दिया और कहा कि अगर विधायक ने अपने बयान पर खेद व्यक्त किया है, तो मामला यहीं खत्म हो जाता है।

HOT DEALS
  • Coolpad Cool C1 C103 64 GB (Gold)
    ₹ 11290 MRP ₹ 15999 -29%
    ₹1129 Cashback
  • Apple iPhone 7 32 GB Black
    ₹ 41498 MRP ₹ 50810 -18%
    ₹6000 Cashback

भारतीय युवा कांग्रेस की महिला सदस्यों ने महाराष्ट्र के पुणे जिले में राम कदम के पुतले फूंके। राकांपा और राज ठाकरे के नेतृत्व वाली महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) ने कदम को रावण करार दिया। महाराष्ट्र विधानसभा में विपक्ष के नेता विखे पाटिल ने इंदापुर में एक रैली में कहा, ‘‘कदम की टिप्पणी ने हमारी माताओं-बहनों का अपमान किया है। अगर इस मामले में कदम के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जाती है तो हम सदन में कामकाज नहीं चलने देंगे।’’ रैली का आयोजन कांग्रेस के जन संपर्क कार्यक्रम ‘जन संघर्ष यात्रा’ के तहत किया गया था।

कांग्रेस की मुंबई इकाई के अध्यक्ष संजय निरुपम ने कदम को भाजपा से निकाले जाने की मांग की और महिलाओं से अनुरोध किया कि वे अगले साल लोकसभा चुनाव तथा विधानसभा चुनाव में भगवा पार्टी के लिये वोट नहीं दें। प्रदर्शन के दौरान राकांपा की महिला कार्यकर्ताओं ने कदम की तस्वीर पर कालिख पोती। मुंबई में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस को चुनौती देते हुए कहा कि वह ‘‘हिम्मत’’ दिखायें और विधायक के खिलाफ कार्रवाई करें।

केन्द्र सरकार के ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ नारे का उपहास उड़ाते हुए उन्होंने हैरानी जतायी कि क्या महाराष्ट्र भाजपा ने ‘‘बेटी भगाओ’’ अभियान शुरू किया है।
राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा कि भाजपा का ‘‘रावण जैसा’’ चेहरा सामने आया है और विधायक राम कदम जब तक माफी नहीं मांगते है तब तक उन्हें ‘‘रावण कदम’’ कहा जायेगा।

बहरहाल विधायक ने कहा, ‘‘अगर मैंने किसी की भावनाओं को आहत किया है तो मैं खेद प्रकट करता हूं।’’ महाराष्ट्र भाजपा की प्रवक्ता शायना एनसी ने पार्टी विधायक की महिला विरोधी टिप्पणी पर असंतोष प्रकट किया है। शायना ने यहां अलीबाबा के कठ फिलाथ्रॉपी सम्मेलन में कहा, ‘‘मैं काफी हैरान हूं और मैं इसे खुलेआम कहूंगी। हमारी पार्टी से एक विधायक हैं जो यह बात करते हैं कि युवतियों को कैसे अगवा किया जाये … इस टिप्पणी से मैं हैरान हूं।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App